जासं, मझौवां (बलिया) : नीर निर्मल योजना के अंतर्गत बनाई जा रही पानी टंकी की बोरिग पंचायत भवन परिसर में किए जाने से ग्रामीणों में आक्रोश है।

पूर्व प्रधान अखिलेश यादव व गांव के सैकड़ों लोगों ने उप जिलाधिकारी सदर अश्वनी कुमार श्रीवास्तव को पत्रक देकर मांग की थी कि आराजी नंबर 663, 12 एयर पंचायत भवन की भूमि है। आराजी नंबर 664 रकबा 44 एयर खेल मैदान श्रेणी तीन की भूमि है। एसडीएम ने नगर नायब तहसीलदार से जांच आख्या मांगी थी। जिस पर नायब तहसीलदार ने अपनी जांच आख्या में उल्लेख किया है कि आराजी नंबर 663 13 एयर ग्राम पंचायत की भूमि है। 664 रकबा 44 एयर खेल मैदान के रूप में अंकित है। इस पर एसडीएम ने अधिशासी अभियंता जल निगम से पत्र लिखकर पूछा है कि क्षेत्र पंचायत बेलहरी के ग्राम पंचायत भरखोखा स्थित पानी टंकी का निर्माण किसकी अनुमति से किया जा रहा है, कितु आज तक जल निगम की ओर से कोई उत्तर नहीं प्रस्तुत किया गया।

ग्रामीणों का कहना है कि दूरभाष पर उन्होंने जल निगम के जेई को स्पष्टीकरण के बाद बोरिग का कार्य करने का निर्देश दिया था। इसके बावजूद बोरिग का कार्य जारी है, जबकि लेखपाल द्वारा खेलकूद के पास की भूमि को भूमि प्रबंधन समिति द्वारा पानी टंकी के निर्माण के लिए प्रस्तावित किया गया है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप