जागरण संवाददाता, बलिया : पकड़ी गांव में शनिवार की रात बहुभोज में बज रहे डीजे को लेकर हुए विवाद में एक व्यक्ति को गोली मार मौत के घाट उतारने के मामले में मुख्य आरोपित अभी भी पुलिस की पकड़ से बाहर है। पुलिस के काफी प्रयास के बाद भी उसका पता नहीं चल पा रहा है। पुलिस ने इस घटना में प्रयुक्त लाइसेंसी बंदूक को आरोपित के घर से बरामद कर लिया है।

नरेंद्र खरवार के घर रात को बहुभोज का कार्यक्रम था। इसमें डीजे आदि की भी व्यवस्था थी। तेज आवाज में बीज रहे डीजे की धुन पर युवक थिरक रहे थे। इसी बीच पड़ोस में रहने वाले बलवंत ¨सह नशे की हालत में वहां पहुंच गया। डीजे को लेकर इनके साथ कुछ लोगों से विवाद हो गया। इसी बीच गांव के ही अजय ¨सह ने बीच-बचाव कर किसी तरह मामले को शांत कराया। इस दौरान बलवंत ¨सह ने अजय ¨सह के सिर पर किसी चीज से प्रहार कर दिया। इससे वह घायल हो गए। इतने में मौका पाकर बलवंत अपने घर में चला गया और छत पर चढ़कर लाइसेंसी बंदूक से अंधाधुंध चार फायर झोंक दिया। गोली लगने से दिनेश की मौके पर ही मौत हो गई थी। वहीं पास खड़े रामचंद्र खरवार के पैर में एक गोली जा लगी थी। गोली चलने से खुशी का माहौल पल भर में गमगीन हो गया था। पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए लाइसेंसी बंदूक तो बरामद कर लिया लेकिन अभी भी मुख्य आरोपित पकड़ से बाहर चल रहा है। इस घटना के बाद से ही गांव में तनाव का माहौल व्याप्त है।

Edited By: Jagran