जासं, दोकटी (बलिया): घूम रहे बेसहारा पशुओं के लिए मनरेगा से गो-संरक्षण केंद्र का निर्माण ग्राम पंचायत सोनबरसा के भगवानपुर में आरंभ हो चुका है। पशु चिकित्साधिकारी डा. लालजी यादव ने बताया कि प्रत्येक ब्लाक में गो-संरक्षण केंद्र बनवाना है। पशुओं की देखरेख के लिए जिसे तैनात किया जाएगा, उसका पारिश्रमिक मनरेगा से किया जाएगा। पशुओं को खाने की व्यवस्था के लिए शासन स्तर से बजट उपलब्ध कराया गया है। उन्होंने क्षेत्रीय लोगों से आग्रह किया है कि जिनके पशु उनके काम के नहीं हैं वे अपने पशु को खुले में न छोड़ें, अस्थायी गो-संरक्षण पर बांध सकते हैं।

Posted By: Jagran