जागरण संवाददाता, बलिया : चैत्र नवरात्र शनिवार से शुरू हो रहा है। पहले दिन घर-घर देवी मां का पूजन के साथ ही कलश की स्थापना की जाएगी। साथ ही मंदिरों में दर्शन पूजन के लिए श्रद्धालु पहुंचेंगे। मां की पूजा के लिए घर-घर में तैयारी पूरी हो गई। एक दिन नवरात्र को लेकर घर से बाजार तक तैयारी चलती रही। मंदिरों में नवरात्र को लेकर विशेष तैयारी की गई है।

नगर के दुर्गा मंदिर, मां ब्राह्मणी देवी मंदिर, शंकर की भवानी मंदिर, कपिलेश्वर, मां मंगला भवानी आदि जगहों पर जोरशोर से कमेटी के सदस्य तैयारी में लगे हुए है। नवरात्र में नौ दिन व्रत रहने वाले लोग भी इसकी तैयारी में जुटे रहे। जिन घरों में पाठ आदि होना है वहां भी साफ-सफाई का काम किया गया। बाजार में पूजा-पाठ की सामग्री खरीदने वालों की भीड़ रही। लोग नारियल, चुनरी, अगरबत्ती आदि की खरीदारी में लगे रहे।

मंदिरों में सुबह से ही होने वाली भीड़ को देखते हुए वहां भी चुस्त-दुरुस्त व्यवस्था की गई है। देवी मां की पूजा की तैयारी को लेकर महिलाएं काफी व्यस्त रहीं। चैत्र नवरात्र इस वर्ष छह अप्रैल को प्रारंभ होगा। यह 14 अप्रैल तक जारी रहेगा। इस वर्ष मां भक्तों को दर्शन देने के लिए घोड़े पर सवार होकर आ रही है और हाथी पर विदा होंगी। यूं तो सभी को पता है कि मां दुर्गा का वाहन सिंह है परंतु नवरात्रि को तिथि और दिन के अनुसार मां भक्तों को अलग-अलग सवारी के साथ दर्शन देती है। 

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस