जागरण संवाददाता, बलिया : लोकसभा चुनाव में लगाए गए मतदान कार्मिकों की ड्यूटी कटवाने के लिए कोई बहानेबाजी नहीं कर सकेगा। हां, मेडिकल बोर्ड की संस्तुति के बाद ड्यूटी से छूट मिल जाएगी। पांच सदस्यों का मेडिकल बोर्ड विकास भवन में बुधवार से ही बैठ रहा है। यह बोर्ड 20 अप्रैल तक सुबह 10 से दोपहर एक बजे तक सभागार में बैठकर जांच करेंगे।

नोडल अधिकारी कार्मिक सीडीओ बद्रीनाथ सिंह ने कहा कि जो कार्मिक किसी चिकित्सकीय दिक्कत से ड्यूटी नहीं कर सकते हैं तो वे अपने आवेदन के साथ बोर्ड के समक्ष प्रस्तुत हों। अगर मेडिकल बोर्ड संस्तुति करता है तो उन्हें ड्यूटी से मुक्त कर दिया जाएगा। उन्होंने साफ किया है कि बिना किसी खास कारण के किसी की ड्यूटी नहीं काटी जाएगी।

प्रशिक्षण के दूसरे दिन सीखी मतदान प्रक्रिया : लोकसभा चुनाव को सकुशल संपन्न कराने के मद्देनजर टीडी कालेज में दूसरे दिन बुधवार को प्रशिक्षण का दौर जारी रहा। दूसरे दिन भी कुल एक हजार कार्मिकों में 15 कर्मी अनुपस्थित रहे। इसमें आठ पीठासीन व सात मतदान अधिकारी थे। सीडीओ बद्रीनाथ सिंह ने इनको साफ चेतावनी देते हुए कहा है कि वे आज आकर ट्रेनिग ले लें, अन्यथा विभागीय कार्रवाई होगी। कम से कम 23 तक चलने वाली ट्रेनिग में तो जरूर शामिल हो जाएं। ट्रेनिग के दौरान बताई जा रही बातों को ध्यान से सुनें। अगर कहीं कोई दिक्कत आ रही है तो उसे बार-बार पूछें।

हर हाल में मतदान प्रक्रिया से जुड़ी जानकारी पूरी स्पष्ट होनी चाहिए। प्रशिक्षण में दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी कृष्णकांत राय व कृषि अधिकारी विकेश कुमार पटेल ने भी सभी कमरों में जाकर मतदान प्रक्रिया से जुड़ी अहम जानकारियां साझा की।

Posted By: Jagran