जागरण संवाददाता, बलिया : माध्यमिक वित्तविहीन शिक्षक महासभा के तत्वावधान में शैक्षिक विचार संगोष्ठी का आयोजन बुधवार को बापू भवन में हुआ। मुख्य अतिथि अखिलेश सिंह ने कहा कि आज मान्यता प्राप्त माध्यमिक वित्तविहीन विद्यालयों में तीन लाख से अधिक शिक्षक कार्यरत हैं। जो अपने भरण-पोषण के लिए प्रबंधकीय व्यवस्था पर निर्भर हैं। जो रोजी पाकर भी रोटी के लिए मोहताज है। जिलाध्यक्ष कृष्ण मोहन यादव ने कहा कि वित्त विहीन शिक्षक अपनी मांगों को पूर्ण करवाने के लिए समय-समय पर आंदोलन के माध्यम से सेवा नियमावली बनाए जाने व वेतन की मांग को लेकर संघर्ष कर रहे हैं। इस अवसर पर बालचंद मौर्य, विनय सिंह, अशोक शुक्ला, सुनील यादव, शैलेन्द्र पांडेय आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran