जागरण संवाददाता, बैरिया (बलिया): बिजली की अघोषित कटौती, व्याप्त दु‌र्व्यवस्था तथा विभागीय अधिकारियों की उदासीनता व मनमानी से त्रस्त सैकड़ों उपभोक्ताओं ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र भेजकर विभाग पर उपभोक्ता हितों की अनदेखी करने व सरकार की छवि धूमिल करने का आरोप लगाया है।

आक्रोशित उपभोक्ताओं का आरोप है कि विद्युत वितरण खंड चार के विद्युत उपकेंद्र जयप्रकाशनगर, लोकधाम ठेकहां, बैरिया नगर, बैरिय ग्रामीण सहित सभी विद्युत उपकेंद्रों पर तैनात अवर अभियंताओं को बिजली आपूर्ति व उपभोक्ताओं की सुविधा-असुविधा से कोई मतलब नहीं रह गया। वही उपकेंद्र अधिकारी व अधिशासी अभियंता भी वास्तविकता से वाकिफ होना नहीं चाहते। स्थिति यह है कि जनप्रतिनिधियों की बात को भी अनसुना कर दिया जा रहा है। यहां तक कि जनप्रतिनिधियों को भी कुछ कर्मचारी दलित उत्पीड़न में फंसाने की धमकी दे रहे हैं।

लोगों का कहना है कि विद्युत वितरण खंड चार पर तैनात अधिकांश अधिकारी दलित वर्ग के हैं। जिनसे विद्युत ट्रीपिग या अघोषित कटौती की शिकायत करने पर उल्टे शिकायतकर्ताओं को ही धमकी देने लगते हैं। इससे क्षेत्र में बिजली की समस्या दिन प्रतिदिन खराब होती जा रही है। जानबूझ कर दोपहर व शाम को विद्युत आपूर्ति बंद करा दिया जा रहा है। बताया कि इस बाबत जिलाधिकारी से कई बार आग्रह किया जा चुका है बावजूद समस्या का समाधान नहीं किया जा रहा है।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस