जागरण संवाददाता, बलिया : चार दिन पूर्व टोंस नदी के सेमरा घाट पर मछली मारने के दौरान डूबे दो किशोर में से एक किशोर आतिफ का शव शुक्रवार को भी नहीं मिला। इसको लेकर पुलिस संग गांव के लोग काफी परेशान हो गए है। ग्रामीणों संग किशोर की मां ने प्रशासन से एसडीआएफ के गोताखोर बुलाने की मांग प्रशासन से की है। लगातार तीन दिनों से पुलिस संग प्रधान प्रतिनिधि दाऊ सिंह, मुन्ना बहादुर, नन्हें सिंह सहित कई युवक उसकी शव की तालाश में गोताखोरों के साथ लगे हुए है। इसके बाद भी कोई सफलता नहीं मिल सकी है। ग्रामीणों का कहना है कि पानी में डूबा कोई भी शव 24 घंटे में पानी के ऊपर आ जाता है लेकिन चार दिन पूर्व डूबे आतिफ का शव अभी तक नहीं मिला। इसको लेकर तरह-तरह का चर्चाओं का बाजार गर्म है। आतिफ की मां ने प्रशासन से एसडीआरएफ बुलाने की मांग की है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस