जागरण संवाददाता, बलिया : गोंड व खरवार जाति विरोधी बयान देने से आक्रोशित इस समुदाय के लोगों ने बुधवार को उप्र एससी/एसटी आयोग के अध्यक्ष बृजलाल का पूतला दहन कर विरोध जताया। कुंवर सिंह पीजी कालेज के महामंत्री कृष्णा कुमार गोंड के नेतृत्व में नगर के टीडी कालेज चौराहा पर मौजूद सैकड़ों लोगों ने आयोग के अध्यक्ष को बर्खास्त करने की भी मांग की। अरविन्द गोंडवाना ने कहा कि गोंड व खरवार जाति को अनुसूचित जनजाति के रूप में मान्यता दी गयी है। साल 2002 से शासनादेशों के अनुपालन में इन जातियों का जाति प्रमाण-पत्र भी होता रहा है लेकिन वर्तमान अध्यक्ष बृजलाल अपनी दुषित मानसिकता का परिचय देते हुए अनाप-सनाप बयानबाजी कर रहे हैं। गोंड व खरवार जाति को उनके संवैधानिक अधिकारों से वंचित कर तुगलकी फरमान जारी किया जा रहा है। जिसे हरगिज बर्दास्त नहीं किया जाएगा। कहा कि जाति प्रमाण-पत्र की मांग को लेकर चार नवम्बर को गोंड महासभा द्वारा जिलाधिकारी कार्यालय पर अनिश्चित कालीन धरना प्रदर्शन प्रारम्भ किया जायेगा। कृष्णा कुमार गोंड ने कहा कि गोंड व खरवार छात्रों का उत्पीड़न चरम पर है। जाति प्रमाण-पत्र के अभाव में इस जाति के युवा नौकरी से वंचित हो रहे हैं। इस मौके पर दीपक प्रसाद गोंड, जितेन्द्र कुमार जीतू, आदित्य कुमार, राहुल गोंड, दादा अलगू गोंड, रघुनाथ गोंड, अखिलेश गोंड, धीरज कुमार, अनित गोंड आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस