बलिया, जागरण संवाददाता। ग्राम समाज के भीटे को लेकर दो पूर्व मंत्रियों के बीच ठन गई है। भाजपा सरकार के पूर्व मंत्री उपेंद्र तिवारी ने सपा सरकार में मंत्री रहे अंबिका चौधरी पर अवैध कब्जा करने का आरोप लगाया। 

उन्होंने ग्रामीणों के साथ गुरुवार को उप जिलाधिकारी प्रशांत नायक से मिलकर निर्माण कार्य रोकने की मांग की। कहा कि फेफना रेलवे क्रासिंग के समीप भीटा की जमीन पर अवैध कब्जा कर पूर्व मंत्री निर्माण करा रहे हैं। इसको लेकर सुबह ग्रामीण शिकायत लेकर पूर्व मंत्री के आवास पर पहुंचे। इसके बाद उन्होंने मामले से एसडीएम को अवगत कराया। 

पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी ने कहा कि 1980 में जमीन की रजिस्ट्री पिता के नाम से हुई है जो मेरी पुश्तैनी जमीन है। वह चितबड़ागांव के संभ्रांत व्यक्ति ने रजिस्ट्री की है। उस जमीन पर कोई नया निर्माण नहीं हो रहा था। पुराने जर्जर बाउंड्री की मरम्मत कराई जा रही थी। आरोप लगाना विरोधियों का पुराना आचरण है। उनकी आलोचना का मेरे पास कोई जवाब नहीं है। जिला प्रशासन की ओर से कोई नोटिस नहीं दिया गया है। 

एसडीएम ने रुकवाया काम

वहीं एसडीएम ने कहा कि पुलिस भेजकर काम रोक दिया गया। सरकारी जमीन पर किसी का नामांतरण नहीं हो सकता। यदि ऐसा हुआ है तो निरस्त होगा। अवैध कब्जा गिराया जाएगा। इस दौरान कपूरी के प्रधान अभय वर्मा व अंजनी ओझा के साथ ग्रामीण मौजूद रहे।

Edited By: Shivam Yadav