जागरण संवाददाता, बैरिया (बलिया): तीन शिक्षकों, दो भाजपा कार्यकर्ताओं के विरुद्ध बैरिया पुलिस द्वारा मुकदमा लिखे जाने से नाराज बैरिया विधायक सुरेंद्र सिंह ने पुलिस थाने का घेराव करने की घोषणा कर दी। गुरुवार को सैकड़ों कार्यकर्ताओं को बैरिया डाक बंगले में बुला लिया गया। मौके पर पहुंचे क्षेत्राधिकारी उमेश कुमार यादव के काफी समझाने बुझाने तथा यह बताने पर कि सभी आरोपियों का नाम मुकदमे से निकाल दिया गया है, विधायक ने घेराव स्थगित कर कार्यकर्ताओं को संबोधित किया।

विधायक ने कहा कि अन्याय व अनाचार, भ्रष्टाचार किसी भी परिस्थिति में अपने विधानसभा क्षेत्र में होने नहीं दूंगा। जो पीड़ित हैं उनको न्याय मिलेगा, दबंगई व धन, बल की बदौलत गरीबों को परेशान करने की छूट मैं दबंगों को नहीं दे सकता। उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता मेरे लिए आदरणीय हैं, उनके सम्मान की रक्षा के लिए मैं किसी भी हद तक जा सकता हूं। उल्लेखनीय है कि बाढ़ राहत सामग्री वितरण को लेकर तीन दिन पूर्व इब्राहिमाबाद नौबरार के प्रधान बच्चा यादव व उनके समर्थकों के साथ भाजपा के पूर्व मंडल अध्यक्ष नंदजी सिंह, भाजपा नेता राकेश सिंह के साथ कहासुनी व विवाद हो गया था। जो बाद में मारपीट में तब्दील हो गया। इस मारपीट में पांच लोग घायल हो गए और पुलिस ने शांति देवी पत्नी काशी नाथ यादव की तहरीर पर उक्त गांव निवासी शिक्षक नीरज सिंह मंटू, नितेश सिंह, राजीव सिंह व भाजपा नेता राकेश सिंह, नंदजी सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। इस सूचना पर विधायक बैरिया पुलिस पर काफी नाराज हो गए और उन्होंने बैरिया थाना के घेराव की घोषणा कर दी। इसके बाद बैरिया पुलिस बैकफुट पर आ गई और मुकदमा में नामजद सभी पांचों आरोपियों को मुकदमे से बाहर कर दिया गया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप