जागरण संवाददाता, बलिया : मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह समारोह में रविवार को 551 जोड़ों की शादी कराई जाएगी। फेफना में आयोजन की तैयारी कई दिनों से चल रही है। युवा कल्याण एवं पंचायती राज मंत्री उपेंद्र तिवारी ने अधिकारियों की अलग-अलग जिम्मेदारी तय कर दी गई है। रविवार को भारी संख्या में इस उत्सव को देखने के लिए भी लोग पहुंचेगे। समारोह में कई बड़े कलाकार अपनी प्रस्तुति देंगे। जिला प्रशासन से अलग गांव के लोग भी इस आयोजन की तैयारी में लगे हैं। सरकार की ओर से प्रत्येक जोड़े के लिए दस हजार रुपये के सामान और 35 हजार रुपये का चेक प्रदान किया जाता है। स्वजनों के भोजन की भी व्यवस्था की गई है। विवाह में हर रस्म को मांगलिक गीतों से सजाने के लिए महिलाएं भी आमंत्रित की गई हैं। वैवाहिक कार्यक्रम में लगभग 40 से 50 हजार लोगों के शामिल होने का अनुमान है। सामूहिक विवाह समारोह के ²ष्टिगत फेफना चौराहे से माल्देपुर मोड़ के बीच चार पहिया वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित किया गया है। केवल विवाह समारोह में ड्यूटी पर तैनात अधिकारियों और पत्रकारों को चारपहिया वाहनों से आवाजाही छूट दी गई है।

----------------------

--सरकार के प्रयास से खत्म हुई एक पिता की चिता

मंत्री उपेंद्र तिवारी ने कहा कि एक समय था जब गरीब की बेटियों की शादी में होने वाले खर्च के डर से रिश्तेदार-नातेदार भी घबराते थे। आज पूरा समाज गरीब बेटियों की शादी में उत्साह के साथ सामूहिक विवाह के कार्यक्रमों में शिरकत करता है। इससे बड़ा पुण्य कार्य कोई दूसरा नहीं हो सकता। सरकार के इस प्रयास से गरीब पिता की चिता खत्म हो गई है।

Edited By: Jagran