जासं, सुखपुरा (बलिया) : लंबी जद्दोजहद के बाद सुखपुरा-बिलारी संपर्क मार्ग बना तो सही, लेकिन गति अवरोधकों की अधिकता व मानक के विपरीत मार्ग का निर्माण आज भी लोगों के लिए परेशानी का सबब बना है।

एक किलोमीटर लंबे मार्ग में 19 गति अवरोधकों का निर्माण लोगों के समझ से परे है। वहीं जुम्मा-जुम्मा मार्ग के निर्माण को आठ रोज ही हुए हैं कि मार्ग का अपने पूर्व रूप में आना शुरू हो गया है। इस संदर्भ में मार्ग से गुजरने वाले लोगों का कहना है कि इससे बेहतर तो वही टूटा फूटा मार्ग था जिसमें कोई वाहन आसानी से तो आ जा सकता था। आज तो गति अवरोधकों की अधिकता के कारण लोगों विशेषकर मरीजों को अस्पताल में ले जाना गंभीर समस्या बन गई है। मार्ग के निर्माण हेतु दैनिक जागरण ने अनेक बार इसकी आवाज बुलंद की थी। मार्ग तो किसी तरह बना लेकिन वह लोगों के लिए आज भी सुविधाजनक नहीं है। इसको लेकर लोगों में आक्रोश है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस