संसू, बहराइच : खबर के साथ छपी फोटो पर गौर फरमाइए। यातायात माह का पोल खोलने के लिए यह फोटो काफी है। यह हाल तब है जब सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए शुक्रवार को यातायात माह नियमों व कायदों मंत्रोचार के बीच शुरू हो गया है। होर्डिंग व बैनर लगाने के साथ गोष्ठियां आयोजित कर लोगों को जागरूक किया जा रहा है, लेकिन चालक हैं कि मानने को तैयार नहीं हैं। यातायात नियमों की सरेआम धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। चौक चौराहों पर बने यातायात बूथ पर सन्नाटा पसरा रहा तो दोपहिया वाहनों पर बिना हेलमेट के लोग फर्राटा भरते रहे।

शहर का चाहे डिगिहा तिराहा हो या अस्पताल चौराहा या फिर पानी टंकी चौराहा हो। हर जगह यातायात नियमों की खूब धज्जियां उड़ी। पानी टंकी चौराहे पर तो ट्रैफिक पुलिस बूथ को संभालने वाला कोई नहीं दिखा। जाम की समस्या भी यहां बनी रही। अधिकारी यातायात माह के शुभारंभ के दौरान नियमों का पाठ पढ़ाकर चले गए। ट्रैफिक पुलिस दिन भर नियमों का पालन कराने का दावा तो करती रही, लेकिन कहीं भी नियमों का पालन लोग करते नहीं दिखे। रसूख व राजनीतिक पहुंच वाले लोग नियमों की अनदेखी करते नजर आए। डग्गामार वाहन भूसे की तरह सवारियों को भरकर ढो रहे थे। यह सब काम यातायात पुलिस के सामने ही हो रहा था। बाइक पर तीन सवारियां भी दिखी। बिना हेलमेट के बाइक पर लोग आते-जाते रहे, लेकिन किसी की ओर से टोकाटोकी तक नहीं की गई। इनसेट यातायात माह के मद्देनजर वाहन चालकों को जागरूक करने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। गोष्ठियों का आयोजन कर लोगों को नियमों से भी अवगत कराकर नियमानुसार वाहन चलाने के निर्देश दिए जा रहे है। यातायात नियमों को दरकिनार करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। अनिल तिवारी, जिला यातायात प्रभारी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस