बहराइच : आपसी मन मुटाव के चलते अलग रह रहे दंपतियों की रविवार को पुलिस लाइन सभागार में परिवार परामर्श केंद्र के सदस्यों द्वारा काउंसिलिंग की गई। बातचीत के बाद साथ में रहने को राजी हुए दंपती ने एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर राजी-खुशी से रहने का संकल्प भी लिया।

देहात कोतवाली क्षेत्र के सरदारपुर निवासी लालिमा का पति ननके उर्फ मुहम्मद शरीफ से मामूली विवाद के बाद अलगाव हो गया। इसी तरह हुसैनपुर निवासी ज्ञान देवी का पति राजेंद्र से, फखरपुर के दरेहटा निवासी रुखसाना का पति शकील से, नवाबगंज के रामपट्टी निवासी प्रेमवती का पति ओमप्रकाश से, दरगाह शरीफ थाना क्षेत्र के मंसूरगंज निवासी सकरून पत्नी मुश्ताक, रामगांव थाना क्षेत्र के रेहुआ मंसूर निवासी आरती का पति अजय कुमार से, पयागपुर थाना क्षेत्र डूंडी पकड़िया निवासी रेशमा का पति महेश से व पंडितपुरवा निवासी मीना देवी का पति भारत लाल, रामगांव के दीवानपुरवा निवासी रजवंती का पति रामकुमार में अक्सर छोटी-छोटी बातों को लेकर विवाद बना रहता था। इसी मन मुटाव को लेकर दंपतियों ने अलग होने का फैसला किया और महिलाएं ससुराल छोड़कर मायके चली आईं। सभी ने मामले की शिकायत पुलिस से की। पुलिस ने मामले को सुलह-समझौता कराने का प्रयास करने के लिए उन्हें परिवार परामर्श केंद्र में भेजा। रविवार को परिवार परामर्श केंद्र में काउंसि¨लग के बाद 12 दंपती एक-दूजे के साथ रहने को राजी हुए। इस मौके पर सीओ महसी सिद्धार्थ तोमर, महिला थाना प्रभारी मंजू पांडेय, उपनिरीक्षक रामसुभग दूबे, महिला एसआई अमरपति ¨सह, एंटी रोमियो प्रभारी शेषमणि पांडेय, महिला आरक्षी केतकी माथुर, पूनम तिवारी, प्रियंका, रोशनी यादव आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran