बहराइच : सोमवार को महसी तहसील में बाढ़ आपदा से निपटने के लिए जिला प्रशासन की ओर से बुलाई गई एनडीआरएफ की 11 वीं बटालियन के डीआईजी आलोक कुमार ¨सह के निर्देशन व इंस्पेक्टर मिथलेश कुमार के नेतृत्व में टीम के जवानों ने सोमवार को महसी तहसील के गायत्री देवी हरि नारायन पांडेय इंटर कालेज खसहा मोहम्मदपुर सामूहिक आपदा प्रबंधन एवं जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया।

इस दौरान ग्रामीणों व छात्र-छात्राओं को बाढ़, अग्निकांड, भूकंप, सर्पदंश, शॉर्ट सर्किट, पानी में डूबने, हार्टअटैक, बाढ़ के दौरान होने वाली परेशानियों व घरेलू उपचार से अवगत कराया। इस दौरान ग्रामीणों व छात्रों को कृत्रिम स्ट्रेचर, कृत्रिम श्वास देने के तरीके पट्टी बांधने आदि के बारे में प्रयोग करके भी दिखाए गए। उन्होंने बताया कि बाढ़ से पूर्व ग्रामीणों को एक किट तैयार कर लेनी चाहिए, जिसमें सूखे भोज्य पदार्थ, मोमबत्ती, इमरजेंसी लाइट, प्राथमिक उपचार की दवाई, रेडियो, तिरपाल आदि रख लेनी चाहिए। जैसे ही प्रशासन से हाई अलर्ट की सूचना मिले बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों को छोड़ देना चाहिए। इस दौरान एनडीआरएफ सब इंस्पेक्टर संजीव कुमार, हरपाल, चंद्रशेखर, दिग्विजय, विद्यालय प्रबंधक त्रियुगीनारायण पांडेय, प्रधानाचार्या पूजा पांडेय, शिक्षक आदर्श पांडेय, रवि श्रीवास्तव, जितेंद्र यादव समेत अन्य शिक्षक व ग्रामीण मौजूद रहे।

Posted By: Jagran