संसू, बहराइच : भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम ने सोमवार को उच्चीकृत जिला महिला व पुरुष अस्पताल का निरीक्षण किया। टीम ने भवन निर्माण, उपलब्ध स्वास्थ्य सेवाएं, उनके क्रियान्वयन समेत एनएचएम से हुई खरीद से जुड़े अभिलेखों को देखा। निरीक्षण में महिला अस्पताल के वार्ड व लेबर रूम में गंदगी मिली। लगभग दो घंटे निरीक्षण के बाद टीम अस्पताल से रवाना हो गई।

स्वास्थ्य मंत्रालय की प्रतिनिधि डॉ. रिचा कांडपाल, प्रशांत कुमार, व परवेज अहमद के नेतृत्व में तीन सदस्यीय केंद्रीय टीम अपराह्न तीन बजे जिला अस्पताल पहुंची। टीम ने जिला अस्पताल के ओटी, लांड्री, एनआरसी, एनसीसीयू, किचन व संचालित ब्रिज प्रोग्राम का भी फीडबैक लिया। अधूरी पड़ी ओटी के बारे में भी जानकारी ली। इसके बाद जिला महिला अस्पताल पहुंची। यहां लेबर रूम, ओटी व वार्डों को निरीक्षण कर भर्ती मरीजों से फीडबैक लिया। इस दौरान जगह-जगह फैली गंदगी, भिनभिनाती मक्खियों के बीच जच्चा-बच्चा के होने पर सीएमएस से पूछताछ किया। इसके बाद सीएमएस कक्ष में एनएचएम बजट से खरीदे गए उपकरणों से जुड़े एक-एक अभिलेखों की भी जांच की। इस दौरान सीएमएस डॉ. आरबी यादव व अन्य मौजूद रहे।

आज सीएचसी-पीएचसी का होगा निरीक्षण

केंद्री स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम मंगलवार को सीएचसी-पीएचसी का दौरा करेगी। यहां भी राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की योजनाओं की हकीकत जांचेगी। मरीजों की दी जारी सेवाओं को फीडबैक लेगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप