संसू, बहराइच: खबर के साथ छपी फोटो को गौर से देखिए। यह सरकार को 60 फीसद राजस्व मुहैया कराने वाला वाणिज्यकर विभाग का कार्यालय है। बुधवार को हुई मूसलाधार बारिश में कार्यालय जलमग्न हो गया। कार्यालय में डंप महत्वपूर्ण फाइलें बह गईं। शुक्र रहा कि समय से बिजली गुल न होती तो विभाग के अधिकारी व कर्मचारी बड़े हादसे का शिकार हो जाते। भवन की दीवारें दरक गई हैं। छत का प्लास्टर भी छूटकर गिर रहा है। शुक्रवार को धूप निकलने पर अधिकारी व कर्मचारी बाहर बैठ कर भीगी फाइलों को सुखाते व काम निपटाते रहे।

शहर के छोटी बाजार में वाणिज्यकर विभाग बहराइच व श्रावस्ती का कार्यालय है। यह कार्यालय 95 रुपये मासिक किराए के भवन में 42 सालों से संचालित हो रहा है। भवन मालिक के कोर्ट की शरण में जाने पर तीन माह पहले किराया 14000 रुपये की गई है। वर्तमान में दो मंजिला कार्यालय भवन जीर्ण-शीर्ण अवस्था में पहुंच गया है। मरम्मत न होने से पहले ही ऊपरी मंजिल ढहने के कगार पर है। बारिश के दौरान कमर तक कार्यालय में पानी भर जाने से दीवारों में जगह-जगह दरारें पड़ चुकी है। भवन के छत का प्लास्टर गिर रहा है। दशकों पुरानी महत्वपूर्ण फाइलें पानी में बह गई तो कुछ भीग कर नष्ट हो चुकी हैं। इन फाइलों को सहेजने के चक्कर में एक कर्मचारी हादसे का शिकार होते-होते बच गया।

-----------------

कर निर्धारण में आएगी दिक्कतें

कार्यालय में पानी भर जाने से व्यापारियों से जुड़ी कर निर्धारण पत्रवालियां नष्ट हुई हैं। इससे कर निर्धारिण में दिक्कतें आएंगी। यही नहीं इसका फायदा कारोबारी उठा सकते हैं।

-----------

उच्चाधिकारियों को भेजी गई रिपोर्ट

डिप्टी कमिश्रर प्रशासन वाणिज्यकर विनोद कुमार ने बताया कि भवन की स्थिति, फाइलों के बहने व भीगने से नष्ट हो जाने की रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेज दी गई है। भवन से कार्यालय दूसरे जगह तत्काल शिफ्ट कराने की सिफारिश भी की गई है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप