बहराइच : महाराष्ट्र के पालघर मॉब लिचिग घटना को लेकर यहां के धर्मगुरुओं में भी उबाल है। श्रीसिद्धनाथ पीठाधीश्वर महामंडलेश्वर रवि गिरि जी महाराज ने कहा है कि यह घटना धर्मगुरुओं को निशाना बनाए जाने की गहरी साजिश का हिस्सा नजर आ रही है। इसकी जांच सीबीआइ से कराई जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि श्रीपंचदशनाम जूना अखाड़े के संत कल्पवृक्ष गिरि, सुशील गिरि उत्कृष्ट कोटि के संत थे। उन्हें जिस तरह से पुलिस की मौजूदगी में पीट-पीट कर मौत के घाट उतारा गया, वह अमानवीय व क्रूरता की इंतहा है। यह घटना महाराष्ट्र पुलिस की विफलता का आइना है। ऐसे में इसकी जांच स्थानीय एजेंसी से कराए जाने का कोई तुक नहीं है। इनके अलावा अन्य संतों ने दोषियों को फांसी देने की मांग की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस