संतोष श्रीवास्तव, बहराइच : एसपी के ताबड़तोड़ निरीक्षण से पुलिसकर्मी हर समय अलर्ट रहते हैं। चौकी व थाना में रात को दो बजे कानून व्यवस्था परखने पहुंच जाते हैं। फरियादियों की शिकायतों पर कार्रवाई की निगरानी गंभीरता से लेकर खुद करते हैं। पीड़ित के मोबाइल नंबर पर संपर्क कर फीडबैक लेते हैं। बात हो रही छह जनवरी को जिले का कार्यभार संभालने वाले एसपी केशव कुमार चौधरी की।

जिले का कार्यभार ग्रहण करने के बाद ही आदर्श आचार संहिता भी लागू हो गई। एसपी के पास दो बड़ी चुनौतियां सामने थी एक तो अपराधियों पर शिकंजा कसने की व दूसरी आगामी दिनों में होने वाले विधानसभा चुनावों को शांतिपूर्वक संपन्न कराने की। एसपी ने थानों पर तैनात पुलिसकर्मियों की गतिविधियों और दक्षता का आंकलन करने के लिए रात में थाना व कोतवाली का निरीक्षण शुरू किया।

फरियादियों के शिकायतीपत्रों पर अंकित नंबर पर स्वयं बात कर बीट सिपाही, दारोगा व संबंधित एसओ ने क्या कार्रवाई की, उसकी जानकारी भी लेते हैं। शांतिपूर्वक चुनाव संपन्न कराने के लिए उन्होंने अब तक 25 हजार लोगों को पाबंद कराते हुए 70 से अधिक शातिर अपराधियों पर जिला बदर कराने की कार्रवाई कराई। चार हजार से अधिक शस्त्रों को जमा कराने के साथ 80 लोगों पर गुंडा एक्ट की कार्रवाई एसपी ने कराई।

बचे हुए शस्त्रों के जमा कराने को लेकर प्रतिदिन थानाध्यक्षों से संवाद करते हुए क्षेत्र में सक्रिय अराजकतत्वों को चिह्नित कर उन पर शिकंजा कसने के निर्देश दिए हैं। शांतिपूर्वक चुनाव को संपन्न कराने के लिए 65 हजार लोगों को पाबंद कराने की तैयारी किए जाने की बात एसपी ने कही।

Edited By: Jagran