बहराइच [मुकेश पांडेय]। किसानों की आय दोगुनी करने के लिए सरकार फलों एवं फूलों की खेती को बढ़ावा देगी। बहराइच में इस बार डेढ़ सौ हेक्टेयर क्षेत्रफल में फलदार पौधों की खेती का फैसला किया गया है। योजना के तहत किसानों को उच्च गुणवत्ता के पौधे एवं तकनीकी सहायता उद्यान विभाग उपलब्ध कराएगा।

फलदार पौधों में सर्वाधिक जोर यहां के वातावरण में उपयुक्त माने जा रहे अमरूद एवं आम की खेती पर है। राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत इस बार 50 हेक्टेयर क्षेत्र अमरूद के पौधे लगाए जाएंगे तो वहीं 48 हेक्टेयर क्षेत्रफल में आम का पौधा रोपा जाएगा।

इसी तरह 25 हेक्टेयर क्षेत्रफल में उन्नतशील प्रजाति की लीची और इतनी भूमि में पंजाब के वातावरण में अपने उत्पादन से किसानों के लिए वरदान साबित हुए किन्नो को लगाने की योजना बनाई गई है।  इसके अलावा दो हेक्टेयर में पपीते की खेती के लिए किसानों को आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाएगी। 

फूलों में गेंदा व ग्लेडियोलस की खेती को बढ़ावा 

जिले में उद्यान विभाग की गेंदा व ग्लोडियोलस की खेती को बढ़ावा देगा। इसके लिए 20-20 हेक्टेयर क्षेत्रफल में किसानों को फूलों की खेती के लिए सहायता दी जाएगी। योजना का लाभ पाने के लिए किसानों को उद्यान विभाग के पोर्टल डीबीटी डाट हार्टिकल्चर डाट इन पर आनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसके लिए खतौनी, आधार कार्ड, बैंक पासबुक और अपनी फोटो अनिवार्य रूप से इस्तेमाल करनी होगी। 

जिला उद्यान अधिकारी पारसनाथ ने कहा, प्रथम आवक-प्रथम पावक के आधार पर योजना का लाभ किसानों को मिलेगा। इसके लिए किसानों को साइबर कैफे जाकर अथवा कार्यालय आकर पोर्टल पर आनलाइन रजिस्ट्रेशन तत्काल करा लेना चाहिए, ताकि उन्हें योजना का लाभ समय से दिलाया जा सके।

Edited By: Shivam Yadav