लखनऊ, जागरण संवाददाता। Bahraich Crime News: एटीएस व मूर्तिहा पुलिस ने संयुक्त अभियान चलाकर नकली नोटों के दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से भारी मात्रा में नकली करेंसी बरामद किया गया है। पकड़े गए आरोपित गोंडा व लखीमपूर जिले के रहने वाले हैं। पकड़े गए आरोपित पत्रकारिता की आड़ में नकली नोटों को खपाने का काम कर रहे थे। आरोपितों के पास से कई प्रेस कार्ड भी बरामद किया गया है। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें न्यायालय भेजा है।

एसपी केशव कुमार चौधरी ने बताया कि एटीएस को सूचना मिली थी कि नकली नोटों के कारोबार में संलिप्त दो लोग जिले के उर्रा इलाके से होकर कहीं जाने वाले हैं। मामले को गंभीरता से लेकर मूर्तिहा कोतवाल व एटीएस की संयुक्त टीम ने सुजौली उर्रा मार्ग पर सघन चेकिंग अभियान लगाया गया। इस दौरान बाइक पर सवार दो युवक आते हुए दिखाई पड़े।

पुलिस बल ने जब उन्हें रुकने का इशारा किया तो वे भागने लगे। घेराबंदी कर जवानों ने उन्हें पकड़ लिया। तलासी लेने पर उनके पास से 3.50 लाख नकली भारतीय मुद्रा और 4.40 लाख रूपये नेपाली करेंसी बरामद किया गया। बरामद बाइक के दस्तावेज भी नहीं थे। कई प्रेस कार्ड और तमंचा भी बरामद किया। पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि वे पत्रकारिता की आड़ में नकली नोटों का कारोबार कर रहे थे।

पकड़े गए आरोपितों की पहचान प्रीतम सिंह उर्फ सोनू उर्फ डाक्टर सिंह पुत्र अरुण कुमार सिंह उर्फ गुरु बक्श सिंह निवासी मझरा पूरब धकेरवा कोतवाली तिकुनिया जिला लखीमपुर व अवधेश तिवारी पुत्र राजेंद्र तिवारी पूरेखेम पर्सिया थाना वजीरगंज जनपद गोंडा के रूप में की गई।गिरफ्तारी टीम में कोतवाल शशि कुमार राणा ,एटीएस के उपनिरीक्षक रवि प्रकाश, हेड कांस्टेबल काजी अफजाल अख्तर, रंजीत कुमार, सतीश कुमार , मूर्तिहा के उपनिरीक्षक कमलेंद्र प्रताप सिंह, आरक्षी रामू गौड़, राजेश यादव, हिमांशु शामिल रहे।

Edited By: Vikas Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट