बागपत, जेएनएन। बागपत में महिला के मतांतरण का मामला सामने आया है। दस साल पहले मोबाइल पर मिस काल से जान पहचान हुई। इसके बाद युवक ने मतांतरण करा युवती से निकाह किया और फिर उसका उत्पीड़न करने लगा था। पुलिस ने महिला की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर आरोपित युवक को गिरफ्तार किया। बाद में आरोपित को न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा गया।

बागपत कोतवाली क्षेत्र के एक गांव की 29 वर्षीय महिला ने पुलिस को बताया कि वर्ष 2011 में चांदीनगर थाना क्षेत्र के एक गांव के विशेष समुदाय के युवक कामिल की मोबाइल पर मिस काल लगी थी। वह दोनों फोन पर बातें करने लगे थे। आरोपित युवक ने उसको प्रेम जाल में फंसा लिया था। धोखाधड़ी से उसका मतांतरण कराया और उसका नाम भी बदल दिया था। फिर उसके साथ कोर्ट मैरिज की। उसके एक बेटा पैदा हुआ, जिसकी अब उम्र करीब साढे़ तीन वर्ष है। बाद में युवक ने उसका उत्पीड़न करना शुरू कर दिया था।

आए दिन उसके साथ गाली-गलौज मारपीट करता तथा जान से मारने की धमकी देता है। उसको अपनी जान का खतरा बना है। उसने अपनी सुरक्षा और आरोपित युवक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। पुलिस ने मामले को गंभीर मानते आरोपित कामिल के विरुद्ध गाली-गलौज, मारपीट व जान से मारने की धमकी तथा 3/5 उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म परिवर्तन अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया।

कोतवाली एसएसआइ संजय कुमार का कहना है कि आरोपित युवक कामिल को रविवार को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया गया। उसको न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा गया है।

Edited By: Jagran