संवाद सहयोगी, खेकड़ा (बागपत): बड़ागांव, दिगंबर जैन बड़ा मंदिर में पूजन कर श्रद्धालुओं ने प्रभु को सिद्धचक्र महामंडल विधान में 128 अ‌र्घ्य चढ़ाए। आचार्य ने श्रद्धालुओं को भगवान की भक्ति के लिए प्रेरित किया।

रविवार को दिगंबर जैन बड़ा मंदिर में नित्य नियम प्रभु का अभिषेक व शांतिधारा से पूजन शुरू हुआ। श्रद्धालुओं ने सिद्धचक्र महामंडल विधान में पूजन कर प्रभु को 128 अ‌र्घ्य समर्पित कर शांति की कामना की। बड़ागांव जैन मंदिर में ब्रह्मचारी नवीन भैया व पंडित आशीष जैन शास्त्री ने पूजन कराया। श्रद्धालुओं ने प्रभु को अ‌र्घ्य समर्पित किए। धर्म चर्चा में आचार्य ज्ञान सागर महाराज ने कहा कि मनुष्य को छोटे से छोटे जीव की रक्षा करनी चाहिए। मनुष्य के किए पुण्य व पाप उसके साथ जाते हैं। मनुष्य को सदैव भगवान की भक्ति व पुण्य कर्म करने चाहिए। विधान में दर्जनों श्रद्धालु शामिल रहे।

Posted By: Jagran