बागपत, जेएनएन। पिचौकरा गांव में मावे की भट्ठी के धुएं से हो रहे प्रदूषण से त्रस्त ग्रामीणों ने प्रदर्शन कर विरोध जताया। ग्रामीणों ने पुलिस प्रशासन के अधिकारियों से लिखित शिकायत भी की है।

पिचौकरा गांव में चल रही मावे की भट्ठियों में पुराने टायर प्लास्टिक कचरा आदि जलाया जा रहा है। इससे भट्टियों से निकलने वाले धुएं से आसपास के ग्रामीणों को सांस लेना दूभर हो रहा है। प्रदूषण झेल रहे ग्रामीणों ने प्रदर्शन कर रोष प्रकट किया। ग्रामीणों ने इस बाबत शिकायती पत्र पुलिस प्रशासन के अधिकारियों को भी भेजा है। इस दौरान रियाजुद्दीन, आशु, सुक्रमपाल, अंकुर, रोजूदीन, रुकसाना, बिस्मिल्लाह, सलीम आदि मौजूद रहे। मिहिर भोज की प्रतिमा से गुर्जर शब्द हटाने पर रोष

गुर्जर भवन में रविवार को गुर्जर महासभा की बैठक हुई। वक्ताओं ने दादरी में गुर्जर सम्राट मिहिर भोज की मूर्ति के अनावरण में शिलापट से गुर्जर शब्द हटाने पर रोष प्रकट किया।

संकल्प लिया कि आने वाले विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को हराकर सबक सिखाया जाएगा। लोकतांत्रिक तरीके से इसका विरोध जारी रहेगा। अध्यक्षता महासभा के अध्यक्ष करतार पहलवान ने की। प्रधानाचार्य कृष्णपाल सिंह, प्रमोद धामा, प्रताप गुज्रर, श्योराज सिंह, महेंद्र धामा मैनेजर, यशराम धामा, देवेंद्र गांवड़ी, लीलू प्रधान, ध्यान सिंह आदि मौजूद रहे। घटिया सामग्री लगाने का आरोप

टांडा गांव में नाले का निर्माण कार्य चल रहा है। रविवार को ठेकेदार द्वारा घटिया सामग्री लगाने का आरोप लगाते हुए ग्रामीणों ने ठेकेदार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने बताया की टांडा-रमाला संपर्क मार्ग का चौड़ीकरण हुआ है और गांव में सड़क के दोनों तरफ नाले का निर्माण कराया जा रहा हैं। नाले बनाने में ठेकेदार घटिया निर्माण सामग्री लगा रहा है। इस मौके ग्राम प्रधान नवाजिश खान, गुलफाम, दानिश, रिजवान, तौसिफ, लियाकत, शौकत व लालू मौजूद रहे।

Edited By: Jagran