बागपत, जेएनएन। गन्ना क्रय केंद्रों से गन्ना लादकर रमाला चीनी मिल जा रहे सात ट्रैक्टर ट्राले और ट्रकों को दो दिन से टोल प्लाजा जिवाना पर रोका गया है। टोल प्लाजा के कर्मचारी टोल दिए बिना वाहनों को नहीं निकलने दे रहे हैं। चीनी मिल के सीसीओ और डीसीओ समस्या को लेकर डीएम से मिले, तो चीनी मिल के प्रभारी जीएम ने ट्रांसपोर्टरों को वार्ता के लिए बुलाया, ताकि समाधान निकल सके।

मोहसीन चौहान, जितेंद्र सिंह आदि वाहन चालकों ने बताया कि वह मंगलवार की सुबह रमाला चीनी मिल में गन्ना क्रय केंद्रों से ट्रैक्टर-ट्रालों और ट्रकों में गन्ना लादकर रमाला चीनी मिल में जा रहे थे, लेकिन उन्हें टोल प्लाजा पर रोक लिया गया। टोल पर तैनात कर्मचारियों ने टोल देने के लिए कहा, जिसके बाद उन्होंने चीनी मिल के सीसीओ से बात कर समस्या से अवगत कराया। सीसीओ और डीसीओ ने समस्या से डीएम को अवगत कराया। सीसीओ अजय यादव ने बताया कि डीएम ने उन्हें एनएचएआइ के अधिकारियों से बात करने के निर्देश दिए। चीनी मिल के प्रभारी जीएम व चीफ केमिस्ट एसके झा ने ट्रांसपोर्टरों को वार्ता के लिए बुलाया है। उधर, चालकों ने बताया कि दो दिन से उन्हें कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। टोल इंचार्ज बादल ने बताया कि गन्ने से लदे वाहन व्यवसायिक वाहनों की श्रेणी में आते हैं, इसलिए ऐसे वाहनों पर टोल लगेगा। अन्यथा एनएचएआइ की अनुमति लेनी होगी, तभी वाहनों को जाने दिया जाएगा। एआरटीओ की ओर ईंट लेकर दौड़ा अ‌र्द्ध विक्षिप्त युवक

एआरटीओ कार्यालय में गुरुवार सुबह वाहनों के फिटनेस जांच की जा रही थी। वाहन चालकों से एक युवक के अवैध वसूली करने की शिकायत पर एआरटीओ सुभाष राजपूत मौके पर पहुंचे।

आरोप है कि युवक हाथ में ईंट उठाकर एआरटीओ को मारने के लिए दौड़ा। आरोपित युवक को पकड़कर पुलिस के सुपुर्द किया। उधर कोतवाली प्रभारी तपेश्वर सागर का कहना है कि युवक अ‌र्द्धविक्षिप्त हैं। युवक लोगों से भीख मांगता है। युवक को कोतवाली से छोड़ दिया गया है।

Edited By: Jagran