बागपत, जेएनएन। एसबीईसी शुगर मिल मलकपुर को किसानों का गन्ना भुगतान नहीं करना महंगा पड़ा। प्रदेश के गन्ना आयुक्त संजय आर भूसरेड्डी ने 455.04 करोड़ रुपये का गन्ना भुगतान नहीं करने पर मलकपुर शुगर मिल की आरसी जारी कर दी है।

गन्ना आयुक्त ने डीएम को भेजी आरसी में बकाया गन्ना भुगतान पर 12 प्रतिशत ब्याज भी लगाया है। गन्ना आयुक्त ने डीएम बागपत को मलकपुर चीनी मिल से भू राजस्व की तरह वसूली करने का आदेश दिया है। यह वसूली चीनी मिल अध्यासी से करने का आदेश दिया है। बकाया वसूली पर कलेक्शन चार्ज भी लगेगा।

गौरतलब है कि गन्ना भुगतान नहीं होने से हजारों किसान आíथक संकट में फंसे हैं। वहीं, सरकार की सख्ती के चलते जल्द भुगतान होने की उम्मीद जगी है। जिला गन्ना अधिकारी डॉक्टर अनिल कुमार ने आरसी जारी होने की पुष्टि करते हुए कहा कि अब प्रशासन ही चीनी मिल से वसूली करेगा। बढ़ा यमुना का जलस्तर, फसलों में घुसा पानी

पहाड़ों पर हो रही बरसात का असर यमुना नदी में भी देखने को मिल रहा है। यहा दिनोंदिन यमुना नदी में पानी का जलस्तर बढ़ता ही जा रहा है। यमुना किनारे खेतों में खड़ी फसलों में भी पानी घुसना शुरू हो गया है। बढ़ते पानी को देखकर किसानों के चेहरों पर मायूसी है। किसानों का कहना है कि यदि जलस्तर इसी तरह बढ़ता रहा तो आने वाले दिनों में पानी फसलों को पूरी तरह नष्ट कर देगा।

शनिवार की बात करें तो यमुना नदी में पानी सुबह छह बजे 3,738 सुबह आठ बजे 9,992, सुबह 10 बजे 5,688, दोपहर 12 बजे 24,110, दोपहर दो बजे 7,304, शाम चार बजे 22,995, शाम सात बजे 5,888, रात आठ बजे 23,597 क्यूसेक पानी यमुना नदी में छोड़ा गया है।

Edited By: Jagran