जेएनएन, बागपत : कोतवाली पुलिस 27 नवंबर की रात हुई राजू हलवाई की हत्या को शायद भूल बैठी है। छह माह बीतने के बाद भी पुलिस राजू हत्याकांड में खाली हाथ है। घटना का राजफाश नहीं होने से ग्रामीण भी पुलिस की कार्यशैली पर प्रश्न उठा रहे हैं।

मुबारिकपुर निवासी राजू (30) पुत्र ओमवीर आसपास के क्षेत्र का प्रसिद्ध हलवाई था। 27 नवंबर की रात फिरोजपुर गांव में हुई शादी में खाना बनाकर दो महिला कामगार को बाइक पर बैठाकर राजू लौट रहा था। मुबारिकपुर से 100 मीटर दूर पीछे से आए बाइक सवार दो बदमाश ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर राजू की हत्या कर दी थी। हत्याकांड को छह माह बीत चुके हैं, लेकिन अभी तक पुलिस किसी नतीजे पर नहीं पहुंची है। मामले में स्वजन ने एक व्यक्ति पर शक जता पूछताछ की मांग की थी, लेकिन पुलिस ने उस तरफ ध्यान नहीं दिया। इसके अलावा पुलिस ने स्वजन व दर्जन भर से अधिक लोगों से पूछताछ की थी।

इंस्पेक्टर शिव प्रकाश का कहना है कि जांच की जा रही है। आरोपित जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

बाइक सवार दंपती से मारपीट, झपट ली चेन

संवाद सूत्र, चांदीनगर : चमरावल जंगल में बाइक सवार दंपती से कार सवार तीन आरोपित ने मारपीट कर चेन झपट ली। शिकायत पर जान से मारने की धमकी दे फरार हुए। पीड़िता ने तीन के खिलाफ तहरीर दी।

चमरावल निवासी शारिका पत्नी विनीत त्यागी ने थाने में तहरीर देते हुए बताया कि शुक्रवार को वह पति के साथ बाइक से पांची सब्जी खरीदने गयी थी। वापस लौटते समय गांव के बाहर जंगल में कार सवार तीन आरोपितों ने उनकी बाइक को रुकवा लिया। गाली गलौज कर आरोपितों ने उसके पति संग मारपीट की। बीच बचाव कराने पर आरोपितों ने मारपीट कर गला दबाया और गले से चेन झपट ली। किसी से शिकायत करने पर तीनों जान से मारने की धमकी देकर फरार हुए। उन्होंने घर पहुंचकर स्वजन को घटना की जानकारी दी। कुछ देर बाद आधा दर्जन लोग घर के बाहर पहुंचे और गाली गलौज की। पीड़िता ने तीन पर कार्रवाई की मांग की। एसआइ मुनेंद्र सिंह ने मामले की जांचकर कार्रवाई का आश्वासन पीड़िता को दिया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप