बागपत, जेएनएन। कोरोना की तीसरी लहर खतरा पैदा कर रही है। उसके बावजूद लोग बैखोफ होकर घूम रहे हैं।

बागपत दौरे पर आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना की तीसरी लहर से सुरक्षा बरतने के लिए जहां स्वास्थ्य विभाग को आदेश दिए थे, वहीं लोगों से भी सुरक्षा बरतने की अपील की। इस अपील का जिले में कोई असर नहीं है। दूसरी लहर से राहत मिलने के बाद से ही लोगों ने मास्क लगाना छोड़ दिया था। भीड़ इस कदर बाजारों में उमड़ी की सभी ने कोरोना के नियमों को तोड़ दिया। आज तक ये नियम टूटते आ रहे हैं। लोगों को जागरूक नहीं किया जा रहा हैं। पुलिस की कार्रवाई भी राष्ट्रवंदना चौक तक सीमित रह गई है। वाहन चालकों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई कर दी जाती है, लेकिन जो दुकानों पर बैठकर व खरीदारी करने जा रहे लोग नियमों को तोड़ रहे हैं, लेकिन उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाती। बसों में बैठे लापरवाह लोगों के खिलाफ भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही। समय रहते जागरूक नहीं हुए तो परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

सीएमओ डा. दिनेश कुमार ने बताया कि कोरोना वायरस से बचाव हर किसी को करना है। चेहरे पर मास्क लगाकर खुद की सुरक्षा करनी है। बचाव के लिए दो गज की दूरी बेहद जरूरी है। इसी मूलमंत्र पर चलकर आगे बढ़ना है। कोरोना क‌र्फ्यू में भी बाजारों में खुल रही दुकानें बढ़ रही भीड़

दो दिन के कोरोना क‌र्फ्यू का जिले में कोई असर नहीं हो रहा है। दुकानें धड़ल्ले से खुल रही हैं और लोगों की भीड़ बाजार में उमड़ रही हैं। सभी नियमों का तोड़ा जा रहा है। न तो जिले में साप्ताहिक क‌र्फ्यू का पालन कराया जा रहा है और न ही कोरोना गाइडलाइन का। यह ही हालत बने रहे तो जिले में वायरस बेकाबू हो जाएगा।

Edited By: Jagran