छपरौली (बागपत) : जिला पंचायत की उदासीनता से कस्बे में छपरौली-टांडा रोड पर थाने के सामने स्थित जिला पंचायत केंद्र इन दिनों बदहाल है। देखरेख नहीं किए जाने से जिला पंचायत केंद्र में झाड़ी व जंगली पौधे उग आए हैं।

छह दशक पहले जिला पंचायत केंद्र काजी हाउस था, जिसे ग्रामीण कानजोत के नाम से पुकारते थे। उस समय इसमें आवारा पशु रखकर उनकी देखभाल की जाती थी। उसके बाद कई साल तक यह श्रीविद्या मंदिर इंटर कालेज के ¨प्रसिपल रणधीर ¨सह का आवास भी रहा, लेकिन बाद में इसे खाली करा लिया गया। उसके बाद से केंद्र वीरान पड़ा है। भवन जर्जर हो चुका है। लगभग एक साल पहले जिला पंचायत ने इस केंद्र पर एक बोर्ड लगवाया था। इस भवन पर थाने के कई मुकदमों में जब्त गाड़ियां भी खड़ी रहती है। एसडीएम अरविंद कुमार ने बताया कि संबंधित विभाग से जांच कराकर केंद्र की मरम्मत कराई जाएगी और भवन को प्रयोग में लाया जाएगा।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप