बागपत, जेएनएन। मेरठ, मुजफ्फरनगर और बागपत के जिम संचालकों को बेची जाने वाली स्टेराइड्स इंजेक्शन और टेबलेट्स को औषधि निरीक्षक ने पुलिस के सहयोग से ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे से बरामद कर दो लोगों को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से ढाई लाख रुपये की दवा पकडी है।

औषधि निरीक्षक वैभव बब्बर ने बताया कि सूचना मिली थी कि हरियाणा से होते हुए ईस्टर्न पेरीफेरसल एक्सप्रेस-वे पर पुलिस को साथ लेकर वाहनों की जांच कराई। हरियाणा की ओर से आई एक फोर्ड एंडेवर गाड़ी को जांच कराई गई तो उसमें स्टेराइड्स इंजेक्शन और टेबलेट्स बरामद की। देवेंद्र और कुणाल निवासी दिल्ली को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। औषधि निरीक्षक ने बताया कि दवा की कीमत ढाई लाख रुपये है। इन दवाओं को जिम करने वाले और बॉडी बिल्डिग करने वाले लोग इंस्तेमाल करते है। मेरठ, मुजफ्फरनगर, बागपत और हरियाणा में इन दवाओं को सप्लाई करनी थी। दवाओं को सीज कर दवाओं के 13 नमूने लिए है। मेरे भाई की हत्या हुई है, कार्रवाई कराओ सीओ साहब

शहर के बिनौली रोड स्थित चौधरी चरण सिंह विहार में सेना के जवान मोहित की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत के मामले को लेकर उसके स्वजन सोमावर को सीओ से मिले। इस दौरान उन्होंने मोहित की पत्नी व उसकी सास पर हत्या का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की।

आरिफपुर खेड़ी गांव के रहने वाले अनिरुद्ध ने बताया कि उसका 28 वर्षीय भाई मोहित उर्फ गुलाब एक साल से अपनी पत्नी वर्षा के साथ बिनौली रोड स्थित चौधरी चरण सिंह विहार में रहता था। वह 2015 में आर्मी में भर्ती हुआ था और फिलहाल वह बंगाल के बीनागुडी में 24 जाट रेजीमेंट में तैनात था। छह फरवरी को मोहित छुट्टी लेकर घर आया हुआ था। आरोप लगाया कि तीन अप्रैल की रात्रि मोहित की पत्नी व उसकी सास ने उसके भाई मोहित की हत्या कर दी और उसका शव बाथरूम के हैंगर पर लटका दिया था, ताकि उसकी हत्या आत्महत्या लगे। इस प्रकरण में निष्पक्षता से जांच कर कार्रवाई की मांग की। सीओ आलोक सिंह ने बताया कि मोहित के भाई मोनू की तहरीर आई थी, जिसकी जांच की जा रही है। जांच के बाद मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान योगेंद्र, कमलेश देवी, मोनू, अंशु आदि मौजूद रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप