संवाद सहयोगी, खेकड़ा (बागपत) : नगर के रेलवे रोड पर ब्लाक परिसर के सामने बिखरे देशी शराब के नए पव्वे खुद ही जहरीली शराब बनाए जाने के कारोबार को उजागर कर रहे हैं। अभी तक पुलिस का सिर दर्द बिक रही अवैध शराब थी, पर अब जहरीली शराब बनाने वालों को पकड़ना बड़ी चुनौती होगा।

थाना क्षेत्र के तमाम गांवों के साथ खेकड़ा के हरेक मोहल्ले में माफिया हरियाणा मार्का शराब का कारोबार धड़ल्ले से कर रहे हैं। गत दिनों लोगों ने रविदास मंदिर की दुकानों से भी शराब की अवैध बिक्री करने की शिकायत की थी, पर पुलिस आरोपितों पर कार्रवाई को अब तक आगे नहीं आई। मंगलवार सुबह रेलवे रोड पर ब्लाक परिसर के सामने देशी शराब के खाली नए दर्जनों पव्वे व रैपर बिखरे हुए थे। ये पव्वे व रैपर सरकारी देशी दुकानों पर बिकने वाली शराब के नहीं हैं। मार्ग से गुजरने वाले लोगों ने इन्हें हटाया।

विजयनगर मोहल्ले में ही सर्वाधिक शराब बिक्री की शिकायत है। इससे शंका होती है कि कहीं मौत के सौदागर कम लागत पर जहरीली शराब बनाकर तो लोगों को नहीं बेच रहे? ऐसे में थाना पुलिस का मौत के सौदागरों को पकड़ना भी बड़ी चुनौती होगी। बीते दिनों शामली में जहरीली शराब पीने से कई लोगों की मौत हुई थी। इंस्पेक्टर शिव प्रकाश का कहना है कि अगर क्षेत्र में कहीं शराब बनाई जा रही है तो आरोपित जल्द सलाखों के पीछे होंगे।

Posted By: Jagran