बागपत, जेएनएन। किशनपुर गांव में पत्नी ने पांच-छह लोगों के साथ मिलकर पति को लाठी-डंडों से पीटकर मौत के घाट उतार दिया। आरोपित फरार हो गए। परिजनों ने कार्रवाई की मांग को लेकर दिल्ली-सहारनपुर हाईवे पर शव रखकर जाम लगाया।

थानाक्षेत्र के किशनपुर गांव निवासी सुनील (50) पुत्र रणधीर गांव के ही चौधरी सूरत सिंह कन्या जूनियर हाई स्कूल में लिपिक थे। गांव में दिल्ली-सहारनपुर हाईवे पर सुनील का मकान है और इसके सामने उनका क्रेशर है। सुनील के भाई अनिल ने बताया कि छह-सात साल से सुनील का पत्नी ऋतु से विवाद था। दोनों अलग रहते थे।

मंगलवार को सुनील ने क्रेशर पर पानी की प्याऊ लगा रखी थी। शाम लगभग पांच बजे ऋतु पांच-छह लोगों के साथ वहां पहुंची और सुनील पर लाठी-डंडों से हमला बोल दिया। बचाव में आए उनके भाई लाला को भी घायल कर दिया। सुनील का सिर पास में रखे तख्त में लग गया, जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई।

भाई लाला ने ऋतु समेत कई के खिलाफ थाने में तहरीर दी। सीओ अनुज चौधरी ने बताया कि आरोपित पत्नी को हिरासत में लिया है। पति-पत्नी में कई साल से विवाद था। मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

एएसपी रणविजय सिंह ने बताया कि ऋतु पति के संबंध किसी अन्य महिला से होने का शक करती थी। इसी के चलते घटना को अंजाम दिया गया। पत्नी ने करा रखा था मुकदमा

इंस्पेक्टर नरेश कुमार ने बताया कि सुनील और ऋतु का छह-सात साल से मनमुटाव था। पत्नी ने उनके खिलाफ मुकदमा करा रखा था, जो न्यायालय में विचाराधीन है। ऋतु गांव में ही पड़ोसी के मकान में बेटी निधि के साथ रह रही थी जबकि सुनील अकेले रहते थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस