जागरण संवाददाता, बड़ौत (बागपत)

: बड़ौत रेलवे स्टेशन से दिल्ली जा रही पैसेंजर ट्रेन में सीट पर बैठने को लेकर नागा बाबाओं और यात्रियों में संघर्ष हो गया। दोनों ओर से हुए हमले के बाद बोगी में अफरातफरी मच गई। मारपीट में पांच लोग घायल हो गए। सूचना के बाद भी राजकीय रेलवे पुलिस कार्रवाई के बजाए मामले को दबाने में जुटी रही।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक गुरुवार शाम साढ़े चार बजे पैसेंजर ट्रेन बड़ौत रेलवे स्टेशन से दिल्ली के लिए रवाना हुई। बागपत रोड रेलवे स्टेशन से ट्रेन में चार-पांच नागा बाबा भी सवार हो गए। सुन्हैड़ा रेलवे हाल्ट से आगे निकलते ही ट्रेन में सीट को लेकर नागा बाबा और यात्रियों में कहासुनी हो गई। विवाद इतना बढ़ा कि दोनों ओर से गाली-गलौज के साथ ही मारपीट होने लगी। नागा बाबाओं ने यात्रियों पर खुलकर चिमटे चलाए। कुछ यात्रियों ने हस्तक्षेप कर किसी तरह मामला शांत कराया। मारपीट में पांच यात्री घायल हो गए। घायलों को खेकड़ा रेलवे स्टेशन पर उतारकर इलाज कराया गया।

सूत्रों की मानें तो यात्रियों ने मामले की सूचना जीआरपी को दी, परंतु जीआरपी वहां नहीं पहुंची। किसी भी पक्ष ने जीआरपी थाने पर तहरीर नहीं दी थी। शुक्रवार को इस मारपीट का वीडियो भी वायरल हो गया।

यात्री ने बोला पहले हमला

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि नागा बाबा ने एक युवक से सीट मांगी तो उसने गाली दे दी। इसके बाद हंगामा हो गया और दोनों पक्षों के बीच मारपीट हो गई।

साध्वी भी थी साथ

बाबा मंडली में एक साध्वी भी थी। यात्रियों द्वारा बाबा पर हमला किए जाने के बाद साध्वी भी उग्र हो गई और एलान किया कि मारपीट करने वाले युवकों को सबक सिखाया जाए।

पहले भी हुआ है झगड़ा

दैनिक यात्री राजेंद्र ¨सह, नीटू, सुभाष, मनीष आदि ने बताया कि जीआरपी की लापरवाही के कारण इस रूट पर चलने वाली ट्रेनों में आए दिन सीट व छेड़छाड़ को लेकर मारपीट की घटनाएं सामने आती रहती हैं। कुछ दिन पहले भी ट्रेन में मौलवी के साथ मारपीट की गई थी। यात्रियों ने ट्रेनों में सुरक्षा बढ़ाने की मांग की है।

इन्होंने कहा..

अभी हमारे पास कोई तहरीर नहीं आई है। जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

-सुखपाल ¨सह, थाना प्रभारी-जीआरपी, बड़ौत।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप