बागपत, जेएनएन। धनौरा टीकरी गांव में सार्वजनिक रास्ते पर अवैध कब्जा किए जाने विरोध में ग्रामीणों ने तहसील में प्रदर्शन किया और ज्ञापन नायब तहसीलदार को सौंपा।

प्रदर्शनकारियों ने बताया कि गांव के ही कुछ लोगों ने सार्वजनिक रास्ते पर कब्जा कर रखा है, जो बाहुबल के दम पर रास्ते पर दीवार का निर्माण भी करा रहे हैं। इसके लेकर गांव में तनाव का माहौल है। अतिक्रमण से रास्ता अवरुद्ध हो गया है। चेतावनी दी कि यदि एक सप्ताह में कार्रवाई नहीं की गई तो तहसील में धरना शुरू कर दिया जाएगा। इस मौके पर महक सिंह, कालूराम, मनवीर, वीरेंद्र, देवेंद्र सिंह, सतेंद्र, सुनील, मामचंद, गुलवीर, धर्मपाल, राजीव आदि मौजूद रहे। डीएपी किल्लत पर कांग्रेसियों का प्रदर्शन

डीएपी की किल्लत को दूर करने की मांग को लेकर कांग्रेसियों ने तहसील में प्रदर्शन किया और राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन नायब तहसीलदार को सौंपा।

शहर अध्यक्ष राकेश शर्मा के नेतृत्व में तहसील पहुंचे कांग्रेसियों ने नारेबाजी की। उनका कहना था कि डीएपी की मांग को कृषि महकमा और प्रशासन पूरा नहीं कर पा रहा। इसे लेकर किसानों में आक्रोश बढ़ रहा है और हालात बिगड़ते नजर आ रहे हैं। खाद वितरण केंद्रों पर किसानों की भीड़ लगी रहती है मगर अधिक अधिकांश समितियों पर डीएपी नहीं है। चेतावनी दी गई कि अगर एक सप्ताह में पर्याप्त डीएपी किसानों को नहीं मिली तो फिर इफको केंद्र पर अनिश्चितकालीन धरना दिया जाएगा। इस मौके पर सतपाल सिंह पथौलिया, हेमंत एडवोकेट, सतीश सेन, डा. नरेंद्र शर्मा, चौधरी यशवीर सिंह, समीम खान, ब्रजमोहन शर्मा, सोनू त्यागी, कृष्ण पाल शर्मा, शाहनवाज, प्रमोद कुमार जैन, हरेंद्र सिंह, देवेंद्र लंबरदार, अशोक शर्मा, शिवकुमार शर्मा, सहेंद्र आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran