बागपत, जेएनएन। तीन दिन का अवकाश खत्म होने के बाद जैसे ही बैंक खुले तो ग्राहकों की भीड़ उमड़ पड़ी। बागपत की 152 बैंक शाखाओं में लोगों की दिनभर लाइन लगी रही। बैंकों में अक्सर दो बजे बाद कम ही ग्राहक नजर आते हैं, लेकिन मंगलवार को शाम को बैंक बंद होने तक लोगों की रुपये निकालने और जमा कराने को ग्राहक उमड़े रहे। रुपये जमा कराने वाले कम थे लेकिन नकदी की निकासी करने वाले ज्यादा लोग नजर आए।

दरअसल शादियों का सीजन होने के कारण लोगों को रुपयों की ज्यादा जरूरत है। एक बैंक अधिकारी ने बताया कि मंगलवार को नई करेंसी के 20, 50 और 100 रुपयों की ज्यादा मांग रही है। वहीं 10 के करारे नोटों की डिमांड भी अच्छी रही, क्योंकि विवाह समारोह में लोग 10 के नोट मिलाई में देते हैं।

जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक प्रदीप कुमार बसंत ने बताया कि मंगलवार को बाकी दिनों के मुकाबले ज्यादा भीड़ रही है। जहां प्रतिदिन 60 करोड़ रुपये का लेन-देन होने का औसत है। वहीं मंगलवार को रिकार्ड 80 करोड़ रुपये का लेन-देन हुआ है। बता दें कि शनिवार से सोमवार तक बैंक बंद रहे थे। नवनियुक्त अध्यापकों को दिया जाएगा प्रशिक्षण

प्रभारी डीआइओएस अंतरिक्ष कुमार ने बताया कि जिले में राजकीय स्कूलों में नवनियुक्त आठ अध्यापकों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। राजकीय कन्या इंटर कालेज इसके लिए निर्धारित किया गया है। उन्होंने बताया कि अध्यापकों को विभागीय संरचना, विद्यालय के बुनियादी ढांचे से संबंधित जानकारी, प्रबंधन, शिक्षण कार्य, सभी से अच्छा व्यवहार, अनुशासन, अवकाश संबंधित जानकारी, कमजोर बच्चों को उपचारात्मक शिक्षण, शिक्षण में खेलकूद, एनसीसी, स्काउट गाइड और योग, बाल मनोविज्ञान, विद्यालय स्तर पर गृह परीक्षा, छात्र उपस्थिति, छात्र निधि, अभिलेख, नई शिक्षा नीति और उद्देश्य से अवगत कराया जाएगा। इसके लिए राजकीय के प्रधानाचार्य और अध्यापकों को जिम्मेदारी दी गई है।

Edited By: Jagran