बागपत, जेएनएन। लापता हिस्ट्रीशीटर का शव मुरादनगर कोतवाली क्षेत्र में हिंडन नदी से मिला था। शिनाख्त नहीं होने पर खेकड़ा पुलिस ने अज्ञात में अंतिम संस्कार किया। परिजन मृतक का सामान लेने रवाना हुए हैं। फोटो देखकर पत्नी व बड़े भाई ने पहचान की। रामपुर मोहल्ला निवासी विनय उर्फ बुड्ढा पुत्र जयकुमार कोतवाली का हिस्ट्रीशीटर था। 19 अक्टूबर की रात पत्नी को कुछ देर में वापस आने को बोलकर गया था। रात भर वापस नहीं लौटने पर अगले दिन परिजनों ने चार लोगों पर अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस से साथ परिजन भी तलाश में लगे थे।

कई संदिग्‍ध लिए गए थे हिरासत में

मंगलवार रात को पुलिस ने पूछताछ के लिए कई संदिग्धों की हिरासत में लिया। तलाश के लिए एसओ ने गाजियाबाद के मुरादनगर पुलिस से सम्पर्क किया जहां अज्ञात शव मिलने का पता लगा। एसओ ने परिजनों को बुलाकर फोटो दिखाया तो पत्नी हेमलता ने पहचान की। पुलिस के मुताबिक चार दिन पूर्व शव मिला था। पोस्टमार्टम के तीन दिन बाद भी शिनाख्त नहीं होने पर अज्ञात में अंतिम संस्कार कराया। शव मिलने से परिवार में कोहराम मचा है। परिजन पुलिस के साथ हिस्ट्रीशीटर का सामान लेने के लिए मुरादनगर को रवाना हुए। एसओ अजय शर्मा का कहना है कि हिस्ट्रीशीटर का शव हिंडन नदी में मिला था। शिनाख्त नहीं होने पर मुरादनगर पुलिस ने अंतिम संस्कार कर दिया। 

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस