बागपत, जेएनएन। सिडिकेट बैंक ने आर्थिक मंदी से निपटने को पश्चिम उप्र में ज्यादा कर्ज वितरण का प्लान बनाया है। बागपत में सिडिकेट बैंक के क्षेत्रीय कार्यालय का उद्घाटन करने के उपरांत बैंक के कार्यपालक निदेशक अजय कुमार खुराना ने कहा कि किसानों व कारोबारियों को ज्यादा कर्ज बांटेंगे। सिडिकेट बैंक ग्रामीणों के घर जाकर कर्ज बांटेगा। इसके लिए गांवों में कर्ज मेलों का आयोजन किया जाएगा।

शुक्रवार को सुबह 11 बजे बागपत में मेरठ मार्ग स्थित सिडिकेट बैंक के क्षेत्रीय कार्यालय के उद्घाटन के उपरांत कार्यपालक निदेशक अजय कुमार खुराना ने जागरण से कहा कि सिडिकेट तथा केनरा बैंक के विलय की प्रक्रिया पूरी होने पर बागपत समेत पश्चिम उप्र में और बैंक शाखाएं खोली जाएंगी। विलय से बैंक कर्मियों को नुकसान नहीं होगा। दोनो बैंकों के कर्मियों की वे सेवा शर्ते लागू होंगी, जो कर्मियों के लिए ज्यादा लाभकारी हैं।

ऋण जमा अनुपात में गिरावट के सवाल पर कार्यपालक निदेशक ने कहा कि बैंक के पास पैसों की कमी नहीं है। अलबत्ता लोग कर्ज लेने को आगे नहीं आ रहे हैं। किसानों व औद्योगिक विकास को गति देने के लिए सूक्ष्म-लघु एवं मध्यम उद्योगों के मालिकों को कर्ज देने पर फोकस रहेगा। बाजार में पैसों का प्रवाह बढ़ाने को पर्सनल लोन ज्यादा देंगे। उन्होंने आने वाले कुछ दिनों में ब्याज दरों में कमी का संकेत दिया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप