बदायूं : मौसम लगातार बदल रहा है। कभी सर्द हवा और बारिश होती है तो कभी चिलचिलाती धूप पड़ती है। यह मौसम बच्चों की सेहत के लिए काफी खतरनाक है। इसलिए बच्चों को धूप और सर्दी दोनों से बचाकर रखें। उन्हें अभी से ठंडा पानी या शीतल पेय पदार्थ न दें। क्योंकि जकड़न की वजह भी यही सर्दी-गर्मी बनती है। जरूरी न हो तो बाजार के खाद्य पदार्थों से भी बच्चों को दूर रखें। क्योंकि इन दिनों डायरिया और निमोनिया के मरीजों की तादात सबसे ज्यादा बढ़ी है। यह बातें दैनिक जागरण के प्रश्न पहर में बुधवार को मेहमान रहे जिला महिला अस्पताल के बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. राजीव रोहतगी ने लोगों से कहीं। सवाल : बच्चे को जकड़न हो गई है। खासकर सुबह के वक्त उसे बहुत ज्यादा खांसी आती है। सीरप भी बदलकर पिला लिए लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ है। - अशफाक सैफी

जवाब : बच्चों को अभी से कूलर या पंखे में न सुलाएं तो बेहतर है। मच्छरों की समस्या हो तो मच्छरदानी लगाएं। याद रखें मच्छर भगाने के क्वाइल आदि भी फेफड़ों में धुएं के साथ पहुंचकर संक्रमण फैलाते हैं। सवाल : हमारा बच्चा डेढ़ साल का है लेकिन लगता है कि उसे कम सुनाई देता है। इशारे में बात को जल्दी समझता है।

- दीनदयाल, कनगवां

जवाब : बच्चे को किसी भी कार्यदिवस में जिला अस्पताल ले आएं। यहां ईएनटी विशेषज्ञ से उसका परीक्षण करवा लें। अब तो यहां साउंडप्रूफ कमरा भी तैयार हो चुका है। इससे ज्यादा सहूलियत मिलेगी। इसके बाद ही इलाज संभव है। सवाल : कई दिन से बच्चे का बुखार नहीं उतर रहा है। अक्सर उसे बुखार आने से पहले तेज ठंड भी लगती है।

- धीरज साहू, बिनावर

जवाब : बच्चे का सबसे पहले मलेरिया चेक कराएं। यह लक्षण मलेरिया के ही हैं, इसके बाद ही दवा खिलाएं। मच्छरों से दूर रखें। सवाल : बच्चे के चेहरे समेत पूरे शरीर पर दाने निकल आए हैं। इनमें खुजली भी होती है। रगड़ने पर खून बहने लगता है।

- अंकुर, बजरंगनगर

जवाब : आप बच्चे को त्वचा रोग विशेषज्ञ को दिखाएं। अगर साधारण दिक्कत होगी तो फिजिशियन के इलाज से ही काम चल जाएगा। हालांकि अहतियात जरूरी है। फिलहाल जख्मों को रगड़ने न दें और कोई भी एंटी सैफ्टिक क्रीम लगाएं। सवाल : बच्चे की लार हर वक्त निकलती रहती है। भूख भी नहीं लगती, वजन भी नहीं बढ़ रहा है।

- सिमरन, खुनक

जवाब : बच्चे को मीठा खाने को न दें, उसे किसी भी दिन अस्पताल लाकर दिखाएं, क्योंकि उसकी उम्र और वजन देखने के बाद ही स्पष्ट होगा। इसके बाद ही दवा दी जा सकेगी।

---------

Posted By: Jagran