संस, बिसौली : दिल्ली से आए रेलवे के अधिकारियों ने चंदौसी-बरेली रेलवे ट्रैक की बारीकी से जांच की। इलेक्ट्रिक लाइन की स्थिति को देखा। दबतोरी, करेंगी रेलवे स्टेशन का निरीक्षण किया। हरदासपुर रेलवे फाटक की मजबूती को जांचा परखा।

पिछले एक साल से मुरादाबाद बरेली रेल लाइन का विद्युतीकरण किया जा रहा है। इस क्रम में कई बार इस लाइन का रेलवे के उच्चाधिकारियों द्वारा निरीक्षण भी किया जा चुका है। इसी क्रम में आज सोमवार को सुबह सुबह दिल्ली से आए मुख्य रेलवे संरक्षा, दिल्ली के आयुक्त शैलेश कुमार पाठक, उपमहाप्रबंधक तरूण प्रकाश, सीनियर डिवीजन इंजीनियर जितेंद्र कुमार, चीफ इंजीनियर एसके सिंह ने सबसे पहले दबतोरी रेलवे स्टेशन को देखा। यहां की बिजली व्यवस्था और सामान के रखरखाव का बारीकी से निरीक्षण किया। इसके बाद होम सिगनल, आउटर सिगनल और केबिन पर जाकर सभी व्यवस्थाओं को जांचा परखा। इसके बाद सभी अधिकारी समीप के ही हरदासपुर रेलवे फाटक पर पहुंच गए। यहां पर केबिन की बिजली व्यवस्था और अंडर बाईपास का निरीक्षण किया। करेंगी रेलवे स्टेशन पर 25 केबीए बिजलीघर बनाने को लेकर अधिकारियों ने विशेष नापतोल की। इस बिजलीघर की उपयोगिता और उसकी सुरक्षा को लेकर स्थानीय अधिकारियों से सलाह मशविरा भी की। लगभग दो बजे तक अधिकारी निरीक्षण कर बरेली चले गए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस