फोटो- 14 बीडीएन - 14 - अस्पताल में महीनेभर पहले ही पहुंची मशीन

- एक्सरे रूम बनवाने के लिए जगह नहीं मिली जागरण संवाददाता, बदायूं : जिला अस्पताल को मिली नई एक्सरे मशीन का लाभ मरीजों को नहीं मिल पा रहा है। वजह है कि मशीन तो पहुंच गई इसे लगाने के लिए नया एक्सरे रूम नहीं तलाशा जा सका है। नतीजतन महीनेभर से यह मशीन अस्पताल में ही पड़ी है। जिम्मेदार जल्द ही जगह निर्धारित कर मशीन लगवाने का दावा कर रहे हैं।

जिला अस्पताल में रोजाना तकरीबन 70 से 80 मरीजों के एक्सरे होते हैं। जिन मामलों में देखकर ही स्पष्ट हो जाता है कि हड्डी टूटी हुई है तो उनका पुरानी मशीन पर एक्सरे किया जाता है। जबकि संदिग्ध मामला दिखने पर डिजिटल मशीन से एक्सरे कराया जाता है। इससे यह भी स्पष्ट हो जाता है कि हड्डी टूटी है या फिर मांसपेशी दिक्कत आई है। इधर, पिछले दिनों शासन की ओर से एक और मशीन अस्पताल प्रशासन को मिली है। इस मशीन के परिणाम पहले वाली मशीन से काफी बेहतर बताए जाते हैं लेकिन एक महीने बाद भी मशीन का लाभ मरीजों को नहीं मिल पा रहा है। वर्जन ::

नई मशीन लगाने के लिए एक्सरे रूम बनवाना पड़ेगा। फिलहाल कमरे की तलाश की जा रही है। तभी मशीन इंस्टॉल कराई जाएगी।

- डॉ. यूवी सिंह, प्रभारी सीएमएस

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस