बदायूं, जेएनएन : जिले के मुरादाबाद-फर्रुखाबाद राजमार्ग के बदायूं से अलापुर, उसावां और शाहजहांपुर जिले की सीमा तक सुदृढ़ीकरण को 200 करोड़ का प्रस्ताव भेजा गया है। सड़क को गड्ढामुक्त करने का प्रस्ताव भी पहले भेज गया है। लेकिन, इसे मंजूरी मिलना आसान नहीं दिख रहा है। पिछले दिनों सीएम के साथ हुई बैठक में जिले के जन प्रतिनिधियों ने इस समस्या को गिनाया था। सड़क मार्ग से बदायूं को लखनऊ से जोड़ने वाले इस हाईवे पर जगह-जगह गहरे गड्ढे हो चुके हैं। इससे जन प्रतिनिधियों को भी आलोचना झेलनी पड़ रही है।

शहर में ओवरब्रिज से नीचे उतरते ही मुरादाबाद-फर्रुखाबाद हाईवे की दुर्दशा शुरू हो जाती है। आवास विकास और विद्युत विभाग के कार्यालय से मंडी समिति तक सड़क पर गहरे-गहरे गड्ढे सरकार के गड्ढा मुक्त अभियान के दावों को मुंह चिढ़ाते नजर आ रहे हैं। मंडी चौकी से अलापुर की ओर बढ़ने पर भी जगह-जगह हाईवे पर गड्ढ़े बन चुके हैं। इससे यहां जाम की स्थिति बनी रहती है। वहीं, आए दिन हादसे भी होते हैं। हल्की बरसात होने पर भी इस रोड पर निकलना मुश्किल हो जाता है। इधर से जन प्रतनिधियों से लेकर अधिकारियों तक का आवागमन रहता है, लेकिन सड़क कब सुधरेगी। यह बताने की स्थिति में कोई नहीं है। लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता अमर सिंह का कहना है कि बदायूं से लेकर शाहजहांपुर तक की सीमा तक हाईवे का चौड़ीकरण और सु²ढ़ीकरण कराने को 200 करोड़ रुपये का प्रस्ताव भेजा है। प्रस्ताव मंजूर हो जाने पर सड़क चौड़ी हो जाएगी और ऊंची भी कराई जाएगी। इससे समस्या का स्थायी निदान हो जाएगा। इनसेट ::

दूसरा बाइपास भी शासन स्तर पर लंबित

शहर के बाहर बारापत्थर से लेकर सरदार पटेल चौक, आसरा आवास होते हुए राजकीय मेडिकल कालेज तक एक बाईपास चालू हो चुका है। अब शहर के पूर्वी क्षेत्र में बारापत्थर से लेकर पड़ौआ होते ही नौशेरा तक दूसरा बाईपास बनवाने का प्रस्ताव भेजा है। यह प्रस्ताव भी शासन स्तर पर लंबित है, अगर दूसरा बाईपास बन गया तो शहर के भीतर जाम की समस्या का स्थायी निदान हो जाएगा।

वर्जन ::

मुरादाबाद-फर्रुखाबाद रोड समेत शहर की सड़कों को गड्ढामुक्त करवाने को पिछले दिनों मुख्यमंत्री के साथ हुई बैठक में चर्चा हो चुकी है। बरसात में यह काम अधूरा रह गया है। कोशिश है कि जल्द ही प्रस्तावों को मंजूर कराकर सभी प्रमुख सड़कों को गड्ढामुक्त करा दिए जाए।

- महेश चंद्र गुप्ता, राज्यमंत्री नगर विकास

Edited By: Jagran