उझानी : ब्लेड वाले तार की बेरिकेडिग में फंसकर युवक की मौत के मामले में पुलिस ने इत्तेफाकिया हादसा दर्ज किया है। इस मुकदमे में खेत मालिकों के नाम भी शामिल किए गए हैं। घटना की तहरीर युवक के भाई की ओर से पुलिस को दी गई। वहीं, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में विजय की मौत गला कटने की वजह से होने की पुष्टि हुई।

कोतवाली क्षेत्र के गांव हरपालपुर में रहने वाला विजय सिंह (25) बाइक से अपने खेत पर जाने को निकला था। रास्ते में बाइक फिसलकर गिरी और देवपाल व जवाहर के खेत की मेड़ पर बंधे ब्लेड वाले तार पर विजय सिंह जा गिरा। तार से उसकी गर्दन कट गई। परिजन उसे अस्पताल लेकर पहुंचे लेकिन यहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। रविवार को शव का पोस्टमार्टम कराया तो रिपोर्ट में गला कटने से मौत की पुष्टि हुई है। वहीं विजय सिंह के भाई वीरपाल की ओर से घटना की रिपोर्ट इत्तेफाकिया हादसा लिखी गई है। कोतवाल विनोद चाहर ने बताया कि खेत मालिक की तलाश की जा रही है, क्योंकि प्रतिबंधित तार उसने खेत में लगाए थे। अगर तार न होते तो युवक की जान बच जाती।

Posted By: Jagran