इस्लामनगर (बदायूं) : शिक्षा के मंदिर में पाप हो गया। शिक्षक की करतूत से प्राथमिक विद्यालय की साख पर बट्टा ही नहीं लगा, बल्कि गुरु की गरिमा भी तार-तार हो गई। शिक्षक पर आरोप लगा है कि वह स्कूल के समय छात्राओं को अश्लील फिल्में दिखाकर छेड़खानी करता है। जातिसूचक शब्दों के प्रयोग की भी बात सामने आई। जब मामला छात्राओं के अभिभावकों को मालूम हुआ तो उनका खून खौल उठा और बुधवार सुबह ग्रामीणों ने स्कूल का घेराव कर डाला। शिक्षक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। किसी तरह ग्रामीण शांत हुए। आरोपित शिक्षक के खिलाफ पुलिस में तहरीर दी है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

थाना क्षेत्र स्थित एक स्कूल में पढ़ाने वाले शिक्षक पर गांव के ही लोगों ने छात्राओं से छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया है। पुलिस को दी गई तहरीर के मुताबिक पांच छात्राओं ने अपने परिजनों को बताया कि स्कूल में तैनात शिक्षक अक्सर उनके साथ अश्लील हरकतें करते हैं। मोबाइल पर अश्लील फिल्में भी दिखाते हैं। यह भी आरोप लगाया कि यह सब परिवार वालों को बताने पर मारने की धमकी भी दी गई। छात्राओं के इस बयान से आक्रोशित परिजन बुधवार सुबह स्कूल पहुंच गए और वहां घेराव करके शिक्षक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई। प्रधानाचार्य ने बमुश्किल लोगों को समझाकर वहां से हटाया तो परिजन दोपहर को थाने पहुंचे और पुलिस को पूरे घटनाक्रम की तहरीर दी। पुलिस ने गांव वालों की पूरी बात सुनने के बाद फिलहाल तहरीर रख ली। वर्जन

मामले की जांच की जा रही है। अगर शिक्षक का दोष निकलता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। हर पहलू को खंगाल रहे हैं।

अजय सिंह चाहर, इंस्पेक्टर इस्लामनगर

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस