बिल्सी : तहसील क्षेत्र के मरीजों को बेहतर चिकित्सकीय सुविधाएं मुहैया कराने के लिए 30 शैया का मातृ एवं शिशु अस्पताल का निर्माण कराया गया। एक साल पहले नवीन भवन को विभाग को हैंडओवर भी कर दिया गया, लेकिन अभी तक उसमें ताला लगा हुआ है।

क्षेत्रीय विधायक आरके शर्मा ने इस नवीन अस्पताल का 23 सितंबर 2017 को उद्घाटन किया था। कागजों में तो यह अस्पताल चलने लगा, लेकिन धरातल पर यहां ताला ही बंद रहा। जिले के नोडल अधिकारी आबकारी आयुक्त धीरज साहू पहुंचे तो उन्होंने अपनी मौजूदगी में इसका ताला तोड़वाया था। बि¨ल्डग के उद्घाटन के समय भी इसमें लगी लिफ्ट बंद मिली थी और आज भी बंद ही है। उद्घाटन के समय कार्यदायी संस्था संस्था यूपी प्रोजेक्ट के मैनेजर डीके दीक्षित को भी यहां तलब किया गया था तब तत्काल व्यवस्था दुरुस्त करने के निर्देश दिए गए थे। नोडल अधिकारी ने ताला तोड़वाने के समय मौजूदा प्रभारी सीएमओ डॉ.मंजीत ¨सह से पूछताछ की, लेकिन वह संतोषजनक जवाब नहीं दे सके। सरकारी अस्पताल की इस नवीन बि¨ल्डग के संबंध में विभाग का कोई अधिकारी सही जवाब नहीं दे पा रहा है।

-----------------------

Posted By: Jagran