बदायूं : गर्मी का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। दोपहर में लू के थपेड़ों के चलते घर से निकलना मुश्किल हो गया है। जिले का अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। रविवार को छुट्टी का दिन होने की वजह से अधिकांश लोगों ने घर में ही दोपहर का वक्त गुजारा। गर्मी से अभी राहत मिलने के कोई आसार नहीं दिखाई पड़ रहे हैं।

सुबह मौसम सामान्य रहा। सूरज निकलने के साथ ही गर्मी का प्रकोप शुरू हो गया। जैसे-जैसे दिन चढ़ता गया गर्मी बढ़ती गई। भीषण धूप के दौरान सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ था। इक्के-दुक्के वाहन ही आते-जाते दिखाई दे रहे थे। जरूरी काम से जो निकल रहे थे वह रूमाल से सिर ढककर निकल रहे थे। बच्चों को घर में रोकना मुश्किल हो रहा है। साधन संपन्न परिवारों में सुबह से ही एसी चल जा रही है। मध्यम वर्गीय परिवारों में भी कूलर का सहारा लिया जा रहा है। बाजार में कूलर की बिक्री बढ़ गई है। शहर में सौंदर्यीकरण के नाम पर हरे वृक्षों के कटान के बाद लोगों को छांव नही मिल पा रही है। लोग गर्मी से बचने के लिए अंगोछा, छाता का सहारा ले रहे है। सबसे अधिक परेशानी रोडवेज, प्राइवेट बस स्टैंड पर यात्रियों को रही। इन जगहों पर यात्री पानी को तलाशते नजर आए। गर्मी के कारण लोग घरों से सुबह शाम को ही निकल रहे है। गर्मी से बचने के लिए चिकित्सक मुंह ढ़कने के साथ-साथ नीबू और अधिक पानी पीने की सलाह दे रहे हैं। जिले का अधिकतम तापमान 42 डिग्री और न्यूनतम 26 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हाल फिलहाल में गर्मी से राहत मिलने के आसार दिखाई नहीं पड़ रहे हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस