बदायूं, जेएनएन: पूर्णिमा के पर सोमवार को कछला घाट पर स्नान के लिए श्रद्धालु उमड़े। श्रद्धालुओं ने आस्था की डुबकी लगाई। दूर-दराज के भक्त गंगा स्नान कर दोपहर तक लौट गए। लेकिन, आसपास के भक्तजन गंगा स्नान के बाद शाम को गंगा आरती में भी शामिल हुए। इस दौरान बरेली-आगरा राजमार्ग पर वाहनों की लंबी लंबी कतारे लग गईं। इससे छह घंटे तक हाईवे जाम रहा। जाम खुलवाकर आवागमन सुचारु करने में पुलिस को मशक्कत करनी पड़ी।

स्नान पर्वों पर कछला घाट पर हर बार भीड़ होती है। लेकिन, पिछले कुछ दिनों से घाट पर नियमित महाआरती शुरू हो जाने और घाट व्यवस्थित होने से भक्तों का आकर्षण बढ़ गया है। इससे घाट पर दिन भर हर-हर गंगे का जयकारा गूंजता रहा। घाट पर भोर से श्रद्धालु पहुंचना शुरू हुए। दिन निकलने के बाद घाट पर भीड़ और बढ़ गई। स्नान के दौरान कोई हादसा न हो। इसके लिए बल्लियां लगाईं गईं। लोगों से आग्रह किया कि गहराई में स्नान करने न जाएं। श्रद्धालुओं ने घाट पर भंडारे भी कराए। शाम को विधि-विधान से गंगा आरती की गई। रेंग-रेंग कर चले वाहन

संसू, कछला : पूर्णिमा के दिन कछला पर उमड़ी भीड़ से बरेली-आगरा राजमार्ग पर सुबह से शाम तक जाम की स्थिति रही। सुबह यहां हालात ज्यादा खराब थे। सुबह छह से दोपहर 12 बजे तक यहां वाहनों को रेंग रेंग कर चले। जाम की स्थिति से निपटने को सीओ उझानी गजेंद्र सिंह व एसडीएम सदर लाल बहादुर मौके पर रहे। यातायात पुलिसकर्मी भी मौजूद रहे। एसडीएम सदर लाल बहाुदर सिंह ने बताया कि पूर्णिमा के चलते जाम की स्थिति बनी है।

Edited By: Jagran