बदायूं (जेएनएन)। बदायूं के गांव नदायल में बेटी को प्रेमी के साथ देख मां-बाप इस कदर आग बबूला हुए कि दोनों का गला घोंटकर मार डाला। उनके शव कमरे में ही छोड़कर फरार होने की योजना बना रहे थे, लेकिन उससे पहले ही पुलिस ने उन्हें दबोच लिया। पूछताछ में दोनों ने गुनाह कबूल कर लिया।

छेड़छाड़ को लेकर मुजफ्फरनगर में सांप्रदायिक तनाव, 10 लोग घायल

सम्भल में गुन्नौर क्षेत्र के मुहल्ला जुल्हेपुरा निवासी कफील अहमद (22) का नदायल निवासी मोहसम अली की 17 वर्षीय बेटी नूरजहां के साथ प्रेम-प्रसंग था। कफील के भाई वकील की ससुराल मोहसम अली के भाई औसफ अली के घर में थी। कफील यहां अक्सर आता-जाता था। शुक्रवार को भी दोपहर के वक्त वह आया तो इसकी जानकारी पहले से ही नूरजहां को थी।

रात में दोनों ने मिलने की योजना बनाई। करीब दस बजे वह पड़ोस में ही मौजूद नूरजहां के घर में चुपचाप दाखिल हो गया। इसके बाद दोनों कमरे में बंद हो गए। मोहसम अली ने किसी तरह दरवाजा खुलवाया। इसके बाद नूरजहां को जोर का धक्का दिया, जिससे सिर चारपाई में लगा और वह बेहोश हो गई। इसी बीच हमसीरन ने उसी के दुपट्टे से उसका गला घोंट दिया।

इधर, कफील ने भागने का प्रयास किया तो मोहसम अली ने रस्सी से उसका गला कस दिया। दम घुटने से कफील की भी मौत हो गई। सुबह ग्र्राम प्रधान को किसी तरह घटना की सूचना लगी। उन्होंने पुलिस को अवगत कराया। मौके पर एसएसपी सुनील सक्सेना पुलिस फोर्स के साथ पहुंचे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021