जेएनएन, बदायूं : जिले के बुनकरों द्वारा तैयार कालीन निर्यातकों तक सीधे पहुंचे। इससे बुनकरों को लाभ मिल सके। यह बातें जिलाधिकारी कुमार प्रशांत ने शिविर कार्यालय में शनिवार को कालीन इंडस्ट्री के विकास को निर्यातकों के साथ बैठक में कही। उन्होंने कहा कि निर्यातकों से यहां के बुनकरों के साथ व्यापार करने को कहा। उन्होंने बताया कि बदायूं के कालीन की पहचान वैश्विक स्तर पर है। यहां बने कालीनों की फिनिशिंग आगरा में होती है। फिर इन्हें विदेशों तक निर्यात किया जाता है। लेकिन, इससे बुनकरों की जगह मध्यस्थों को लाभ मिलता है। इसलिए जरूरी है कि बुनकर सीधे मुख्य धारा में आकर अपने कालीन को निर्यातकों तक पहुंचाएं। उपायुक्त उद्योग जैस्मिन ने बताया कि आज के दौर में ऑनलाइन खरीदारी की तरफ रुझान बढ़ रहा है। इस कारण यह निर्यातकों का सीधे बुनकरों से संपर्क और भी महत्वपूर्ण हो जाता है। बैठक में दिल्ली व नोएडा से आए निर्यातक नेल्सन एडवर्ड सोलोमन, शिवानी सिंह मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस