संस, बिसौली : करबला के शहीदों की याद में चेहल्लुम का जुलूस निकाला गया। शिया इमामबाड़े में अजादारों ने नवासा ए रसूल फातमा के लाल की याद में मर्सिया ख्वानी के साथ सीना जनी की। रविवार को चेहल्लुम के जुलूस में मेंहदी और ताजिए मुहल्ला पठान टोला, पक्की सराय, गदरपुरा आदि परंपरागत रास्तों से होते हुए ईदगाह कर्बला शरीफ पर पहुंचकर खत्म हुआ। एसडीएम सीपी सरोज, सीओ राघवेंद्र सिंह राठौर, कोतवाल पंकज लवानिया, चेयरमैन पुत्र राशिद मंसूरी, मेहशर अली, छग्गें शाह, मेहर खां, सूफी जरीफ सैफी, बाबू ठेकेदार, भूरे कुरैशी, जाकिर खां, शफीक फारूकी आदि मौजूद रहे। वहीं, बिसौली में एसडीएम चंद्रप्रकाश सरोज, सीओ राघवेंद्र सिंह और कोतवाल पंकज लवानिया ने नगर में भ्रमण किया। अस्थाई अतिक्रमण पर दुकानदारों को चेताया। चेहल्लुम के मौके पर निकला जुलूसे हुसैन

संसू, उसहैत : शहीदाने करबला के चेहल्लुम के मौके पर कस्बे में जुलूसे हुसैन निकाला। घर घर जिक्रे करबला और फात्हाख्वानी का दौर चला। पंजतन पाक और करबला बालों से मुहब्बत रखने वाले हजारों मुसलमानों ने जुलूस में शिरकत की और या हुसैन की सदाओं को बुलंद किया। जुलूसे हुसैन सुन्नी हुसैनी कमेटी की देखरेख में अकीदत के साथ निकाला गया। लोगों ने अपने घरों पर जिक्रे इमाम हुसैन किया और फात्हाख्वानी कराई। इस मौके पर सैय्यद परवेज अली, पूर्व सभासद नत्थू खां, शाहनवा•ा हुसैन, तालिब अली, सैय्यद शाहिद अली, चांद मियां, शिफा हुसैन, असगर अली आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप